जेल से बाहर आते ही चिदम्बरम ने फिर खोली जबान, दिया ये बड़ा बयान

66

कई महीने जेल में बिताने के बाद में आखिरकार पी चिदम्बरम को जेल से छुट्टी मिल ही गयी. कोर्ट ने उनकी जमानत मंजूर की और फ़िलहाल के लिये वो जेल से बाहर है, हालांकि उनके खिलाफ अभी केसेज बंद नही हुए है और जांच की जा रही है मगर अब जब चिदंबरम बाहर आ ही गये है तो फिर इतना तो जाहिर है कि वो राजनेता है तो किसी भी हाल में राजनीति करना नही छोड़ेंगे और उन्होंने छोड़ा भी नही है. अभी हाल ही में उन्होंने काफी बयान जारी किये और मोदी सरकार पर सवाल दागे है.

सरकार के पास अर्थव्यवस्था पर कोई भी जवाब नही, CAB भी पूरी तरह से असवैधानिक
पी चिदंबरम ने हाल ही में मीडिया से भी बात की है जिसमे उन्होंने कई सारे सवाल किये और आरोप भी लगाये है. पी चिदम्बरम ने कहा कि अगर मैं निर्मला सीता रमण जैसा वित्त मंत्री होता जिससे देश को कोई फायदा नही हो रहा है तो मैं तुरंत ही इस्तीफा दे देता. सरकार के पास में अर्थव्यवस्था को लेकर के कोई जवाब नही है कि वो आखिर क्या कर रहे है और क्यों कर रहे है?

अभी पिछले महीनो में मोदी सरकार जो भी क़ानून लेकर के आयी है वो सब सुप्रीम कोर्ट में फंस गये है और CAB भी फंस जायेगा क्योंकि ये बिल पूरी तरह से असंवैधानिक है. ये सुप्रीम कोर्ट में गिर भी जाएगा क्योंकि ये सिर्फ मैं नही कह रहा हूँ बल्कि रिटायर्ड जस्टिस संतोष हेगड़े भी यही ही कह रहे है. चिदम्बरम ने ये सवाल तक पूछ लिया कि आखिर उन्हें इस तरह का बिल लाने की सलाह किसने दी है? इनका मकसद सिर्फ और सिर्फ सरकार के एजेंडे में हिंदुत्व को शामिल करना है.

चिदम्बरम ने जिस तरह से जेल से बाहर आने के बाद से ही अपने जवान से आग उगलनी शुरू की है उसके बाद में जाहिर तौर पर शाह की नजर उन पर पड़ेगी ही पड़ेगी और फिर तो जो होना है वो होकर के ही रहेगा.