उद्धव के शपथ ग्रहण से पहले फिर गायब हुए अजित पवार, फोन भी बंद

298

अजित पवार इन दिनों ऐसा नाम बन चुका है जो कब क्या कर जाये कोई भी नही जानता है क्योंकि जिस तरह से अजित पवार ने पहले एनसीपी से अलग जाकर के भाजपा की सरकार बनवाई और फिर बीच रह में बीजेपी को छोड़ दुबारा शरद पवार की शरण में लौटे वो अपने आप में अप्रत्याशित घटना ही थी और किसी को भी उम्मीद न थी कि ऐसा कुछ भी हो सकता है. मगर अब अजित पवार हर बार कुछ ऐसा ही करके क्या साबित करना चाहते है ये कोई भी नही जानता है.

ठाकरे के शपथ ग्रहण से पहले अजित पवार फिर गायब, मोबाइल भी स्विच ऑफ
उद्धव ठाकरे का शपथ ग्रहण आज शाम को साढ़े पांच बजे शिवाजी पार्क में होना है और मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक़ इसी शपथ ग्रहण से पहले अजित पवार कही चले गये है. उनका फोन भी बंद है जिसके चलते उनसे संपर्क कर पाना संभव नही हो पा रहा है. हालांकि एनसीपी ने मामले को संभालने के लिये बयान जारी कर कहा है कि वो उन्होंने अपनी मर्जी से किया है और वो अपनी मर्जी से ही कही गये है, इसमें किसी को चिंता करने की जरूरत नही है.

वैसे खबरे ये भी है कि अजित पवार द्वारा किये गये पिछले दिनों में काण्ड के बाद में न सिर्फ शिवसेना बल्कि उनकी ही पार्टी के कई दिग्गज नेता उन्हें भाव नही दे रहे है और न ही उन्हें तरजीह दे रहे है. हालांकि शरद पवार और सुप्रिया सुले उनसे नाराजगी छोड़ चुके है लेकिन अब अजित पवार अपने ही खेमे में अलग थलग पड़ गये है और संभव है इसी कारण से वो अपना सब कुछ फोन वगेरह बंद करके बैठ गये हो, कुछ भी कहा नही जा सकता है.

सूत्र बताते है कि अजित पवार को एनसीपी महाराष्ट्र में उपमुख्यमंत्री बनवा सकती है लेकिन वो शपथ अभी नही लेंगे बल्कि बाद में लेंगे क्योंकि पिछले दिनों में जो बखेड़ा खड़ा हुआ था उसके बाद में अभी शपथ लेना ठीक नही रहेगा.