शाह ने पलट दिया सारा खेल, देवेन्द्र फडनवीस ने मुख्यमंत्री पद की शपथ ली

268

पिछले लगभग एक महीने से महाराष्ट्र की राजनीति में काफी ज्यादा डेवलपमेंट चल रहे है और इसके बारे में हम सभी लोग जानते ही है कि शिवसेना मुख्य पार्टी के रूप में उभरकर के सामने आयी थी जिसके समर्थन में कही न कही एनसीपी थी लेकिन फ़िलहाल जो रातो रात हुआ है उसने तो सारे के सारे पासे ही पलट कर के रख दिए और ये अपने आप में काफी ज्यादा हैरान करने वाला भी है. सबसे ज्यादा तो कही न कही इससे ठाकरे को लगा है जो मुख्यमंत्री पद के लिए ही बीजेपी से अलग हुए थे.

भाजपा ने बनाई महाराष्ट्र में सरकार, अजीत पवार ने दिया समर्थन
महाराष्ट्र की राजनीति में बहुत ही बड़ा उलटफेर देखने को मिला है जो अपने आप में चौकाने वाला है. देर रात को अजीत पवार ने एनसीपी से अलग होकर के बीजेपी को अपने विधायको के साथ में समर्थन दे दिया जिससे बीजेपी बहुमत के आंकड़े को पार कर गयी जिसके बाद देवेन्द्र फडनवीस ने सरकार बनाने का दावा पेश किया और आज सुबह आठ बजे ही भाजपा की सरकार बन भी गयी जिसमे देवेन्द्र फडनवीस ने मुख्यमंत्री पद की और अजित पवार ने उपमुख्यमंत्री पद की शपथ ले ली.

देखती रह गयी शिवसेना, फायदा उठा ले गये शाह शिवसेना
पिछले एक महीने से हाथ पाँव मार रही है लेकिन उनके हाथ में कुछ भी नही आ रहा था मगर वही भाजपा ने सिर्फ कुछ ही पलो में अजित पंवार से मिलकर के ऐसे समीकरण बैठाए कि शिवसेना और बाकी सारी की सारी पार्टियां देखती ही रह गयी. ये हर किसी को हद दर्जे तक हैरान कर रहा था क्योंकि ऐसा कुछ रातो रात हो जाएगा ऐसा किसी ने सोचा नही था.

अब इस पर शिवसेना हो या कांग्रेस हो सभी पार्टियाँ बीजेपी पर खरीद फरोख्त जैसे तमाम आरोप तो लगाएगी ही लगाएगी इस बात में कोई भी संशय नही है मगर सच ये भी है कि भाजपा बाजी मार ले जा चुकी है.