अमित शाह ने राज्यसभा में किया बहुत बड़ा ऐलान, ममता बनर्जी की घबराहट बढ़ी

199

अभी हाल ही में हम सभी लोग देख ही रहे है कि किस तरह से देश में आये दिन बाहर से घुसपैठ हो रही है, अन्दर भी टुकड़े टुकड़े करने वाले लोग पैदा हो रहे है और इससे कही न कही भारत की एकता और राष्ट्रीयता को खतरा होने की संभावना है क्योंकि एक छोटा सा संक्रमण भी शरीर को बीमार कर देते है. ऐसे में सरकारे इनसे निपटने के लिए कुछ न कुछ प्रयास करती ही रहती है और इस बार मोदी सरकार भी ऐसा ही कुछ करने वाली है जिसकी जानकारी अमित शाह ने आज राज्यसभा में दी है.

पूरे देश में लागू होगा एनआरसी, घुसपैठियो को बाहर किया जाएगा
अमित शाह ने आज राज्यसभा में ये ऐलान कर दिया कि वो और उनकी सरकार अब देश भर में एनआरसी लागू करने जा रहे है जिसकी शुरुआत असम से की गयी थी. इसके जरिये बांग्लादेश या किसी भी अन्य देश से भारत में घुसकर के चोरी छुपे आने वाले और रहने वालो की पहचान की जायेगी और उन्हें निकाला जाएगा. देश में सिर्फ वही लोग रहेंगे जो इस देश के नागरिक है या फिर उनके पास में भारत का वीजा या शरण प्राप्त है.

असम में लाखो को किया गया है अलग, ममता बनर्जी जैसे नेता कर रहे है विरोध
अब जिस तरह से भाजपा की सरकार देश भर में एनआरसी लागू कर रही है उससे ममता बनर्जी और ऐसे कई नेताओं को घबराहट होने लग गयी है क्योंकि बांग्लादेशी घुसपैठीयो को निकालने की बजाय वो उन्हें बचाने में लगे हुए है और कही न कही उनकी मदद कर रहे है जिससे राज्य ही नही बल्कि राष्ट्र की अर्थव्यवस्था पर बोझ बढ़ता चला जा रहा है.

ऐसे में ममता बनर्जी हो या कांग्रेस हो दोनों ही पार्टियां और इनके नेता लोग एनआरसी का विरोध करते आये है क्योंकि इनके मुताबिक़ बीजेपी एनआरसी मुस्लिमो को टारगेट करने और उन्हें देश से निकाल देने के लिए लेकर के आयी है. खैर भाजपा की दलील है कि इससे किसी को भी डरने की जरूरत नही है.