सोनिया गाँधी से मीटिंग के बाद शरद पंवार ने दिया ऐसा बयान, बढ़ गयी शिवसेना की टेंशन

118

शरद पंवार ने अपनी पूरी जिन्दगी कही न कही राजनीति को खड़ा करने में और उसे संभालने में गुजारी है इस वजह से जब वो खेलते है तो बड़े बड़े शातिरो के खेल बंद हो जाते है और लगता है इस बार महाराष्ट्र में भी उन्होंने ऐसी ही गुगली फेंक दी है जिसमे शिवसेना उलझकर के रह गयी है. हाल ही में शरद पंवार सोनिया गांधी से मीटिंग करने दिल्ली स्थित उनके आवास गये थे जहाँ पर उन्होंने लगभग आधे से एक घंटे मुलाक़ात की और बाहर आकर शिवसेना की टेंशन सातवे आसमान पर ही पहुंचा दी है.

शरद पंवार ने कहा, अभी हमारी सरकार गठन पर कोई बात नही हुई
शरद पंवार जैसे ही सोनिया गांधी से मिलकर के लौटे तो उनसे शिवसेना के साथ में मिलकर सरकार बनाने पर सवाल पूछे गये जिसके जवाब में उन्होंने कहा कि हमने अभी तक शिवसेना के साथ सरकार बनाने को लेकर के कोई भी बात नही की है. हम अभी स्थिति पर नजर बनाये हुए है और बादमे देखते है क्या निर्णय लेना है? इससे पहले भी शरद पंवार कह चुके है कि बीजेपी और शिवसेना ने मिलकर के चुनाव लड़ा है अब वो अपने अपने रास्ते चुने.

शिवसेना के लिये है कश्मकश से भरा हुआ माहौल
फ़िलहाल जो शरद पंवार कर रहे है इससे शिवसेना के लिए तो टेंशन बढ़ेगी ही बढ़ेगी क्योंकि एनसीपी के साथ के भरोसे ही तो ठाकरे ने एनडीए को ठोकर मार दी और इसके बाद में अब उनके पास में कुछ नही बचा है और शरद पंवार यूँही टरकाते रहे तो कभी न कभी शिवसेना का सब्र टूट ही जाएगा और इधर सब्र टूटा उधर फिर झगडे शुरू जिसमे भाजपा को आनंद लेने का मौका मिल जाएगा.

खैर अभी तो उद्धव और राउत दोनों ही बैठकर के इन्तजार कर रहे है कि किसी न किसी तरह से वो एनसीपी और कांग्रेस से समर्थन हासिल कर ले लेकिन शरद पंवार की हरकतो को देखकर के ऐसा होते हुए नजर आ नही रहा है.