ममता बनर्जी और औवेसी के बीच शुरू हुई जुबानी लड़ाई, जानिये क्या है पूरा मामला

126

देश की राजनीति फ़िलहाल के दिनों में किस तरफ जा रही है ये बात किसी को भी समझ में नही आ रही है क्योंकि आये दिन कभी कोई किसी पर बयानबाजी कर रहा है तो कोई किसी पर कर रहा है और समझ में किसी को भी नही आ रहा है कि आखिर हो क्या रहा है? अब ममता बनर्जी को तो आप जानते ही है जो अपने विवादित बयानों को लेकर के अक्सर चर्चा में रहती है और एक बार फिर से वो चर्चा में आ गयी है लेकिन इस बार की बात कुछ और ही है.

ममता ने मुसलमानों से कहा, औवेसी पर भरोसा न करे
ममता बनर्जी हमेशा से ही कुछ न कुछ विवादित बयान देती रहती है लेकिन इस बार वो ऐसे व्यक्ति से उलझ पड़ी है जो खुद ही विवादों का नायक कहा जाता है. हम बात कर रहे है ओवेसी की जिसे टार्गेट करते हुए ममता बनर्जी ने बयान जारी किया है कि अल्पसंख्यक लोग ओवैसी जैसे नेताओं पर भरोसा न करे और न ही उनकी कही हुई बातो को सुने क्योंकि ये सिर्फ अपने फायदे के लिये काम करते है.

ओवैसी ने दिया जवाब, ममता के राज में गरीब है मुसलमान
अब ओवैसी को तो आदत है हर आरोप का जवाब देने की, तो इसका भी दिया. हैदराबाद के सांसद ओवैसी ने ममता को जवाब देते हुए कहा कि अगर ऐसा है तो हम भी बता दे कि पश्चिम बंगाल में ममता बनर्जी के राज में मुसलमान सबसे ज्यादा गरीब है. उनकी संख्या सबसे अधिक गरीब है. ममता बनर्जी बता दे कि ऐसा क्यों है? ओवैसी ने पूछा है कि अगर वो मुस्लिमो की हिमायती है तो फिर उनके राज में ऐसा क्यों हो रहा है?

अब कुछ लोगो के लिए तो ये आनंद लेने का मौका है क्योंकि ओवैसी और ममता बनर्जी दोनों ही मुस्लिम वोटबैंक पर पकड़ रखने वाले नेता है और अगर ये दोनों आपस में भिड़ेंगे तो आनंद तो भाजपा और संघ को ही आना है.