मध्यम वर्ग के लोगो के लिये बहुत बड़ा तोहफा लेकर आ रहे है नरेंद्र मोदी

280

सरकारे हमेशा से ही नागरिको के जीवन को बेहतर बनाने के लिए प्रयासरत रहती है और इस कारण से ही देश में विकास भी हो रहा है और लोगो के जीवन की गुणवत्ता भी सुधरी है इस बात से इनकार नही किया जा सकता है मगर जब से मोदी सरकार भारत में आयी है तब से इस कार्य में कई गुना तेजी देखने को मिली है क्योंकि ये सरकार नयी नयी लोककल्याणकारी स्कीम लाकर के लोगो के जीवन को सुधारने का प्रयास कर रही है और अब एक और तरफ कदम बढाने की तैयारी की जा रही है.

मेडिकल हेल्थ कवर देने की तैयारी में सरकार, बीमारियों के इलाज में मिलेगी सरकारी मदद
मोदी सरकार ने नीति आयोग से कहा है कि वो अध्ययन करे कि 21वी सदी के अनुसार आधुनिक हेल्थ कवर कैसे दिया जा सकता है? लोग बीमारी में लाखो रूपये गंवाते है जिससे वो गरीबी में धकेल दिए जाते है. इनको बचाने के लिये कुछ न कुछ रास्ता तो निकालना ही होगा और इसलिए अब सरकार मेडिकल हेल्थ कवर पर काम करने में लगी हुई है.

अगर मीडिया रिपोर्ट्स की माने तो पहले मेडिकल रिपोर्ट्स और डाटा का डिजिटलाइजेशन करवाया जाएगा और उसके बाद में मेडिकल सुविधाओ की रणनीतिक खरीदारी की जायेगी. संभव है सरकार हेल्थ खर्चो को बहुत ही न्यूनतम स्तर पर ले जाए जिससे मध्यम वर्गीय परिवारों के लिए डॉक्टर को दिखाने से लेकर मेडिकल रिपोर्ट्स और ऑपरेशन जैसे खर्चे न्यूनतम दरो पर या फिर काफी हद तक मुफ्त ही होने लग जाये. अभी भी काफी हद तक ये कुछ राज्यों में है लेकिन इसका राष्ट्रव्यापी काम अभी तक नही हो पाया और न ही इसे गरीब लोगो के अलावा किसी और को देने की व्यव्स्तहा कुछ ख़ास देखी जा रही है.

अगर इस मेडिकल व्यवस्था को अच्छे से लागू करने में मोदी सरकार कामयाब हो जाती है तो जो मध्यम वर्गीय परिवारों क लाखो हजारो रूपये किसी बीमारी के पीछे डूब जाते है, कही न कही वो तो बच ही जायेंगे. हालाँकि अभी इसके असितत्व में आने में काफी वक्त लग जाएगा.