महाराष्ट्र में अगला मुख्यमंत्री किस पार्टी का होगा? एनसीपी ने साफ साफ बता दिया है

197

अभी जो कुछ भी हुआ है या फिर जो कुछ भी हमें महाराष्ट्र की राजनीति में देखने को मिल रहा है वो किसी फ़िल्मी ड्रामा से कम तो नही है क्योंकि जिस तरह से शिवसेना का झुकाव अचानक अपने सिद्धान्त छोड़कर के सत्ता की तरफ हो गया है वो इस राज्य की पूरी राजनीति को ही बदल देने वाला है. अब शिवसेना अपनी सरकार तो बनाना चाहती है मगर एनसीपी और कांग्रेस के साथ में उनका पेच अटका हुआ है और इस कदर अटका हुआ है कि पूछिये ही मत. हालांकि अब एक अच्छी खबर जरुर आयी है.

एनसीपी नेता नवाब मलिक ने कहा, सरकार बनी तो सीएम शिवसेना का ही होगा
एनसीपी के नेता नवाब मलिक जो शरद पंवार के बाद में सबसे बड़े नेता माने जाते है उन्होंने बयान जारी करते हुए कहा कि शिवसेना और बीजेपी के बीच में विवाद ही सीएम पद को लेकर के हुआ था इसलिए अगर सरकार बनती है तो शिवसेना का ही मुख्यमंत्री बनेगा क्योंकि जिस तरह से उनका अपमान किया गया है उसके बाद में उनका सम्मान बनाए रखना हमारी जिम्मेदारी है.

हालांकि नवाब मलिक ने ये भी साफ़ किया कि उन्होंने एक कॉमन मिनिमम प्रोग्राम पर काम करना शुरू कर दिया है जिसमे कुछ शर्ते होंगी और वो शर्ते शिवसेना को माननी ही होगी. अगर वो इन्हें नही मानती है तो समर्थन वापिस भी लिया जा सकता है. अब ये शर्ते क्या होगी और शिवसेना के सिद्धांतो को किस हद तक कुचल देगी ये तो आने वाले समय में ही पता चलेगा लेकिन इससे कही न कही एक बात तो साफ़ हो जाती है कि अब ये शिवसेना बाल ठाकरे वाली सेना नही रहेगी.

आपको बता दे हाल ही में शरद पंवार ने एक प्रेस वार्ता भी की है जिसमे उन्होंने कहा है कि हम कांग्रेस के साथ में काफी कुछ बाते फाइनल कर रहे है और इसके बाद में ही शिवसेना के सामने एक कॉमन मिमिमम प्रोग्राम रखा जाएगा. अगर सब कुछ ठीक रहता है तो शिवसेना अपना सीएम बना पाने में कामयाब हो जायेगी.