उद्धव ठाकरे पर अब भड़के अमित शाह, दे दिया ये बड़ा बयान

423

इतने समय से महाराष्ट्र में जो कुछ भी हो रहा था या फिर जो भी देखने में आ रहा था वो किसी से भी छुपा हुआ तो बिलकुल भी नही था. उद्धव ठाकरे और शिवसेना की अपना मुख्यमंत्री बनाने की महत्त्वकांक्षा कही न कही उन्हें भाजपा से दूर ले गयी और अब वो बीच में ही लटक गये है क्योंकि शिवसेना को कांग्रेस और एनसीपी तरफ से समर्थन पर कोई भी निर्णय नही हो पा रहा है. इतने समय तक इस मामले में बीजेपी का हाईकमान काफी हद तक चुप था मगर अब जाकर के शाह खुद बोल पड़े है.

शाह ने कहा, चुनाव से पहले कुछ और बात हुई थी और अब ये नयी डिमांड लकर के आ गये
अमित शाह शिवसेना के साथ में बीजेपी का गठबंधन टूटने से काफी नाराज है. उन्होंने मीडिया से बात करते हुए कहा ‘मैंने और प्रधानमंत्री जी ने बार बार पब्लिक के बीच में जाकर के चुनाव से पहले कहा था कि अगर हमारा गठबंधन जीतता है तो देवेन्द्र फडनवीस ही हमारे मुख्यमंत्री होंगे तब किसी ने भी इसका विरोध नही किया. सब तय था लेकिन अब जैसे ही चुनाव खत्म हुआ तो ये लोग एक नयी डिमांड लेकर के सामने आ गये.’

शाह ने साफ किया कि हम लोग फिर से चुनाव नही चाहते है. हम जनता का विश्वास नही तोड़ रहे है और न ही तोड़ना चाह रहे है. शाह ने यहाँ पर अपनी तरफ से स्थिति साफ कर दी है कि वो शिवसेना की इन हरकतों से न तो खुश है और न ही इन्हें पचा पा रहे है. अब वो जहाँ चाहे वहाँ सरकार बनाये या फिर जहां जाना चाहे वहाँ चले जाये हमें इससे कोई भी फर्क नही पड़ता है.

शिवसेना ने अभी तक इस बयान का कोई जवाब नही दिया है लेकिन उम्मीद की जा रही है कि जल्द ही जवाब तो वो भी देंगे क्योंकि अभी कोई भी इस गठबंधन टूटने का इल्जाम अपने सर पर नही लेना चाह रहा है और न ही अपनी इमेज खराब करना चाह रहा है.