राम मंदिर निर्माण के लिये पहले 10 करोड़ की घोषणा यहाँ से हुई है

178

हिन्दू धर्म और उससे जुड़े हुए लोगो ने राम के भक्तो ने पिछले लम्बे समय से सुप्रीम कोर्ट में एक लंबा संघर्ष किया है और आखिरकार रामलला ने इस मामले में विजय हासिल की. अब सुप्रीम कोर्ट का फैसला आ गया है और सरकार पर मंदिर निर्माण के लिये ट्रस्ट बनाने की जिम्मेदारी है. अगर सूत्रों की माने तो नवम्बर महीने के अंत होने से पहले ट्रस्ट बन जायेगा लेकिन जैसा कहा जा रहा है कि एक महाभव्य और विशालकाय मंदिर का निर्माण होगा. अब इसके लिये पैसे की जरूरत तो होगी और लोगो में अभी से इस पर होड़ मचने लग रही है.

महावीर मंदिर ट्रस्ट देगा 10 करोड़ रूपये, हर वर्ष 2 करोड़ रूपये भेजेगा
पटना में पिछले 30 वर्षो से एक भव्य हनुमान जी का मंदिर बना हुआ है और ये बहुत ही पुराना है जिसका जीर्णोद्धार कर इसे एक नया स्वरुप दिया गया था. इसी ट्रस्ट की तरफ से हाल ही में घोषणा की गयी है कि हमने पहले से ही अपने भक्तो की तरफ से आने वाली इनकम को बचाकर के रखा हुआ है और उसका एक हिस्सा यानी दस करोड़ रूपये हम राम मंदिर के ट्रस्ट को देंगे ताकि वो सुन्दर मंदिर बना सके.

राम मंदिर में आने वालो के लिये भोजन की व्यवस्था भी महावीर ट्रस्ट करना चाहता है महावीर ट्रस्ट
के प्रमुख कुनाल किशोर ने इच्छा जताई है कि वो राम मंदिर दर्शन करने के लिए दूर दूर से आने वाले सभी लोगो के लिए भोजन आदि की व्यव्य्स्था भी करना चाहते है. वो कहते है कि जैसे ही ट्रस्ट बनेगा तो वो तुरंत ही उनको पहले दो करोड़ रूपये हाथ में दे देंगे ताकि काम शुरू हो. बाकी लोग तो अपनी तरफ से सहायता राशि जब देंगे तब देंगे आप बस जल्दी निर्माण कार्य शुरू करे और भव्य मंदिर का निर्माण करे.

लोगो की उत्सुकता बहुत ही तेजी के साथ में बढ़ रही है कि अगर इतनी सारी धनराशि आनी शुरू हो रही है तो फिर तो ये मंदिर कदाचित भारत के सबसे भव्य मंदिरों में शामिल होगा जिसे देखने देश ही नही बल्कि दुनिया भर से लोग आयेंगे.