मुस्लिमो के इलाके में रहता था हिन्दू एक्टर, दिवाली मनाने की कोशिश की तो हुआ ऐसा हाल

505

दिवाली अपने आप में प्रेम और सौहार्द का त्यौहार है और प्रेम और भाईचारे का सन्देश भी देता है लेकिन इसके बावजूद कुछ एक जगहों पर ये प्रेम गैर हिन्दुओ के लिए नफरत करने का एक कारण सा बन जाता है. ऐसा ही कुछ भारत से बाहर या किसी देहाती इलाके में नही बल्कि देश की आर्थिक राजधानी मुंबई में हुआ जहाँ एक सेक्युलर फिल्म एक्टर को उसके हिन्दू होने की वजह से अपमान का दर्द झेलना पडा और ये अपने आप में हैरान करने वाला है.

दिवाली मनाने की कोशिश करने पर सजावट की लाइट्स फोड़ दी, रंगोली नही बनाने दी
इनका नाम है विश्वा भानु और ये फिल्म इंडस्ट्री में कलाकार का काम करते हिया. विश्व भानु मुंबई की एक मुस्लिम सोसाइटी में रहते है और इनका इलाका मलाड पड़ता है. सोशल मीडिया पर अपनी पोस्ट पर विश्व ने लिखा कि मेरे घर पर दिवाली की लाइट्स जलाने पर कुछ लोग मेरी पत्नी से बहस करने लगे. उन्होंने वो लाइट्स तोड़ तक दी और न ही हमें रंगोली बनाने दी. एक भीड़ आयी और उन्होंने हमें ये सब कुछ हटाने के लिए मजबूत भी किया.

सोशल मीडिया से फैली बात, तो मामला सुलझा
विश्व भानु ने दिवाली की ही शाम को एक बार फिर से एक पोस्ट लिखी जिसमे वो कहते है कि सारा मैटर अपने तरीके से सुलझा लिया गया है. जाहिर तौर पर ये सब कुछ इसलिए सुलझा क्योंकि मुद्दा सोशल मीडीया पर वायरल हो गया और फिर ओप इंडिया समेत कई बड़े बड़े न्यूज़ पोर्टल्स ने इसे उठाया तो प्रशासन और राजनीति जागी. इससे बचने के लिए असामाजिक तत्व जो विश्व भानु और उनकी पत्नी को दिवाली मनाने से रोक रहे थे वो सब पीछे हटे. हालांकि अभी की स्थिति क्या है इसकी कोई भी जानकारी नही है लेकिन इन लोगो का खतरा तो हर वक्त मंडराता ही रहेगा.

ऐसा पहली बार नही हुआ है. कश्मीर और बंगाल जैसे राज्यों में अक्सर इस तरह से हिन्दुओ के दमन की खबरे आती रहती है और ये अपने आप में चिंता का विषय है जिसे सरकार और नेता समय समय पर उठाते रहते है लेकिन अब तक इसका कोई भी समाधान नही हो पाया है.