महाराष्ट्र में शिवसेना ने दी बीजेपी को चेतावनी, कहा ‘अति मत करो वरना’

403

हरियाणा और महाराष्ट्र में विधानसभा चुनाव के नतीजे आ चुके है. अब पार्टियाँ अपनी अपनी तरह से जैसे भी बैठ रहा है वैसे गठजोड़ करके सरकार बनाने के प्रयास कर रही है. भाजपा दोनों ही राज्यों में सबसे बड़ी पार्टी बनकर के उभरी है लेकिन दुखद बात ये है कि बहुमत का आंकड़ा अपने बल पर छूओ नही पायी है. महाराष्ट्र में भी शिवसेना का सहारा लगा है. भाजपा को और शिवसेना ने मिलकर के 162 सीट्स हासिल की है जो उम्मीद से कम है और ऐसे में शिवसेना का बीजेपी को खरी खोटी सुनाना तो बनता था और और सामना में सुना भी दिया.

सामना में शिवसेना ने लिखा, अति मत करो वरना समाप्त हो जाओगे
भाजपा की स्थिति हरियाणा और महाराष्ट्र में जब से कमजोर हुई है तो विपक्ष के साथ में उनके साथ के दल भी हावी हुए है और शिवसेना भी उनमे से एक है. शिवसेना ने सामना के मुखपत्र में लिखा ‘अति नही उन्माद नही वरना समाप्त हो जाओगे. ऐसा जनादेश ईवीएम मशीन से बाहर आएगा. ये एक तरह से उन सत्ता के मालिको को सबक है. जिस तरह से जनता ने धौंस और सत्ता की मस्ती के प्रभाव में न आते हुए वोट किया उसके लिए उनका अभिनंदन.’

फड़नवीस के मजे लिये, शरद पंवार की तारीफ़ भी की
शिवसेना ने महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री पद के दावेदार देवेन्द्र फडनवीस के बारे में कहा ‘मुख्यमंत्री ने खुदको ऐसा प्रस्तुत किया जैसे वो तेल लगाकर के अखाड़े में उतरे हुए पहलवान है लेकिन अब उनको मान लेना चाहिए कि तेल थोडा कम पड़ गया था और शरद पंवार ने माटी की कुश्ती वाला बनकर के अखाड़े की गदा को जीतकर के दिखाया है.’

शिवसेना और भाजपा के बीच में इस तरह की खटपट की वजह मुख्यमंत्री पद की दावेदारी है. जहाँ एक तरफ बीजेपी सिर्फ और सिर्फ देवेन्द्र फडनवीस को सीएम पद पर बिठाना चाहती है वही दूसरी तरफ शिवसेना अपने लाडले आदित्य ठाकरे को उस कुर्सी तक बढ़ने के लिए देखने को उत्सुक है.