हरियाणा में चुनावी परिणाम आने के बाद भूपिंदर हुड्डा का बड़ा बयान

167

हरियाणा में विधानसभा चुनाव हो चुके है और रिजल्ट भी आ चुके है. भाजपा ने लगभग 40 सीटो पर अपनी बढ़त बनाई है जबकि कांग्रेस भी 32 के साथ में सत्ता पर दावेदारी ठोक रही है. ऐसे में स्थिति ऐसी बन रही है कि बचे हुए जो भी विधायक या फिर जेजेपी जिस भी पाले में जाते है उस पार्टी की सत्ता बन जायेगी और ऐसे में कांग्रेस सबसे ज्यादा हाथ पांव हिला रही है क्योंकि वो महाराष्ट्र में तो पहले ही हार चुकी है और अब हुडा का बयान इस बात की पूरी तरह से पुष्टि करता है.

हुड्डा ने कहा, बीजेपी विरोधी सभी लोग एक साथ आये
भाजपा अब भी हरियाणा में सबसे अधिक विधायको वाली पार्टी है लेकिन बहुमत से दूर है. ऐसी स्थिति में हुड्डा चाह रहे है कि उन्हें जेजेपी या फिर निर्दलीय विधायको से समर्थन मिल जाए और वो सरकार बना ले. इसी के मद्देनजर हुड्डा काफी वक्त तक चुप्पी साधे हुए बैठे थे लेकिन जब बोले तो सीधा बोले ‘बीजेपी विरोधी सभी दल एक साथ आये और मिलकर के सरकार बनाये.’ हुड्डा ने कहा है कि वो अभी हाईकमान से मिलकर के मीटिंग करेंगे और पूरे मसले पर मंथन करेंगे.

सोनिया गांधी ने दिया भूपेन्द्र हुड्डा को फ्री हैण्ड
सोनिया गांधी ने इतने लम्बे समय बाद सत्ता के इतना करीबी आंकड़ा देखा है और ऐसी स्थिति में उन्होंने भूपेन्द्र हुड्डा को जोड़ तोड़ करने और समर्थन जुटाने के लिए फ्री हैण्ड दे दिया है क्योंकि वो हरियाणा की लोकल राजनीति की काफी समझ रखते है और जेजेपी से मिलकर के कुछ करने की काबिलियत भी है.

ऐसे में भाजपा क्या कर रही है?
भाजपा भी कोई हाथ पर हाथ धरे नही बैठी है. जेजेपी से बात नही बन रही है तो बीजेपी ने अब निर्दलीय विधायको से संपर्क करना शुरू कर दिया है और अभी हरियाणा में कुल दस निर्दलीय विधायक है. अगर वो भाजपा को समर्थन देते है तो भी बीजेपी के लिए सत्ता के करीब पहुँच पाना काफी आसान हो सकता है.