मोदी जिनपिंग की मुलाक़ात से बिलबिलाये इमरान, कहने लगे ऐसी बात

158

चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग इन दिनों भारत आये हुए है और भारत के प्रधानमंत्री मोदी जी के सदात में कई तरह की अनौपचारिक बाते कर रहे है. ये एक तरह की केजुअल मीटिंग कही जा सकती है जिसका मकसद सिर्फ और सिर्फ दोनों देशो के बीच में वैश्विक मंचो पर चल रहे तनाव को कम करना हो सकता है. मगर इससे सबसे ज्यादा तनाव किसी को हो रहा है तो वो है इमरान खान इमरान जिनपिंग की भारत यात्रा से इतने परेशान है कि फिर से उल जलूल बयानबाजी करने पर उतर आये है.

विदेशी मीडिया जैसे हांग कांग को कवर करता है वैसे कश्मीर को नही करता
इमरान खान ने चीन के राष्ट्रपति के भारत में आने के दौरान ही हांग कांग के मुद्दे को भी हवा दे दी जो चीन के लिए सरदर्द है. इमरान खान ने कहा कि विदेशी मीडिया जितनी प्रमुखता के साथ में हांग कांग की घटना को कवर करता है(जहाँ चीन अनैतिक रूप से कब्जा किये हुए है) वैसे ही कश्मीर को क्यों नही करता है? हमें लगता है ये समस्या यूएन चार्टर के जरिये ही सुलझाई जा सकेगी. कही न कही पाक ने हांग कांग का नाम लेकर चीन को ब्लैकमेल करने की कोशिश की है.

जिनपिंग की भारत यात्रा से पहले भी चीन गये थे इमरान खान
जिनपिंग भारत आने वाले थे उससे लगभग 48 घंटे पहले ही इमरान खान चीन पहुँच गये थे. उन्होंने चीन से आश्वासन लिया कि कश्मीर मुद्दे पर वो पाक का साथ देंगे. कुल मिलाकर के पाक को फ़िलहाल डर सता रहा है कि अगर चीन किसी भी कारण से भारत के पक्ष में चला गया तो वो पूरी दुनिया में कश्मीर मामले पर अकेला पड़ जाएगा और उसके अकेले की वैसे भी कोई सुनने वाला नही है.

जिस तरह से जिनपिंग को मोदी तमिलनाडु घुमा रहे है, फोटोज खिंचवा रहे है और याराना सा दिखा रहे है वो पाक के लिए पेट में दर्द देने वाला है क्योंकि इमरान खान से जिनपिंग को इस तरह से मिलने की इजाजत नही मिलती है. आखिर पाक और चीन के लेवल में भी तो जमीन आसमान का फर्क है.