जब संबित पात्रा से गोडसे मुरदाबाद कहने को कहा गया, ये था उनका जवाब

350

राजनीति विचारों का  संगम है और यहाँ पर जब विचार आपस में टकराते है तो कही न कही गूँज तो होती है और हर किसी को अपने अपने तरह के विचार रखने का अधिकार भी है इस बात में कोई भी शक नही मगर कई दफा ये कुछ ज्यादा ही हो जाता है जब इन मंचो से गोडसे का नाम आता है. एक व्यक्ति को लेकर के हर किसी के अपने अपने विचार होते है और आप अन्य पर उसे थोप भी नही सकते लेकिन भाजपा पर गोडसे के प्रति नफरत हमेशा से ही थोपने की कोशिश की जाती रही है.

कांग्रेस प्रवक्ता ने संबित पात्रा से कहा गोडसे मुरदाबाद कहो, संबित ने लगा दिये राजीव गांधी के विरोध में नारे
संबित पात्रा हमेशा से ही अपनी वाकपटुता और कुशलता के लिए जाने जाते है और इस बार भी उन्होंने इसी का परिचय दिया. संबित से एक मीडीया समूह के कार्यक्रम के दौरान कांग्रेस प्रवक्ता चरण सिंह सपरा ने कहा अगर आप गांधी को मानते है तो फिर गोडसे मुरदाबाद बोलकर के दिखा दीजिये. इस पर संबित ने कहा ठीक है मेने बोल दिया गोडसे मुरदाबाद लेकिन अब आपको भी कुछ बोलना पड़ेगा.

आप भी कहिये राजीव गांधी मुरदाबाद. 84 का दोषी सिख लोगो का दोषी राजीव गांधी के लिए भी ऐसा ही बोलिए. आज मैं आपको आपके सिख धर्मगुरुओ की कसम देता हूँ बस एक बार बोल दीजिये. इस पर सपरा को मानो सांप ही सूंघ गया. वो बोले तो बोले ही क्या? इस तरह से संबित हर बार अपने बोलने की तरीके से अपने विरोधियो को मात देते हुए आये है और हर बार उन्होंने खुदको देश का नम्बर वन प्रवक्ता भी साबित किया है इस बात में कोई भी शक नही है.

इससे पहले भी कन्हैया उन्हें इस सवाल पर फंसा चुके है लेकिन जरूरी नही है कि संबित हर बार गांधी और गोडसे पर फंसे. उन्होंने खुदको बोलने के मामले में काफी ज्यादा अपग्रेड किया है और आज संबित पात्रा वाकई में