प्रधानमंत्री मोदी ने राहुल गांधी को बड़े अच्छे से फंसा दिया है

259

राहुल गांधी वो नाम है जो अपने कर्म से हो न हो लेकिन गांधी सरनेम की वजह से भारतीय राजनीति में बड़ा ही ख़ास महत्त्व रखते है और इस बात को कोई भी नकारता तक नही है. सभी की अपनी अपनी इच्छाए है और बोलने के तरीके है. खैर इन सबके बीच में राहुल गांधी तो अब राजनीति से परे ही हट चुके है, मगर फिर भी उनके ऊपर खूब सरकारी पैसा तो व्यर्थ होता ही है जैसे उनको एसपीजी सुरक्षा मिली हुई है. अब वो देश में रहते है तब तो खूब शानो शौकत से गार्ड्स लेकर के घुमते है लेकिन जब बारी आती है विदेश की तो अकेले भाग जाते है.

अब राहुल को सरकारी सुरक्षा लेकर ही जाना होगा विदेश, मोदी सरकार का फरमान
सरकार द्वारा आदेश दिया गया है कि अब राहुल गांधी अगर विदेश भी जाते है तो उन्हें अपनी एसपीजी सुरक्षा को अपने साथ में लेकर के जाना होगा. आपको बता दे अभी राहुल बैंकॉक भी गये थे तो भी अपनी सुरक्षा के लोगो को साथ में लेकर के नही गये थे. ऐसे में उनको कुछ हो जाता है तो कांग्रेस ठीकरा भी मोदी सरकार पर ही फोड़ेगी.

अब राहुल चोरी छुपे ऐसा क्या काम करने के लिए बार बार विदेश जाते है और जाते हुए मुफ्त में मिली हुई सरकारी सुरक्षा छोडकर के चले जाते ही ये अब तक पहेली ही बना हुआ है. मगर अब से ऐसा होगा ही नही क्योंकि सरकार के आदेश के अनुसार अब राहुल चाहे देश में रहे या फिर विदेश जाये, उन्हें एसपीजी के जवानो को तो अपने साथ में लेकर के जाना ही होगा और वो उनके साथ में साये की तरह रहेंगे. इससे राहुल पर थोड़ी बंदिश जरुर लग जायेगी ये तो तय है.

हालांकि कुछ लोग ऐसे भी है जो राहुल को बेवजह मिलने वाली प्रधानमंत्री के समकक्ष सुरक्षा को गलत  बताते है और इसे वापिस लेने की मांग करते है. उनका कहना है कि राहुल के लिए जेड या फिर वाय लेवल की सुरक्षा ही पर्याप्त है. एक विशेष परिवार का होने की वजह से इतनी भारी और लग्जरी सुरक्षा यूँ ही दे देना कहां तक वाजिब है?