8 अक्टूबर को रक्षामंत्री राजनाथ ऐसा कुछ करने जा रहे है, जिसे सुनकर पाक को पसीना आ रहा है

89

भारत हमेशा से ही पाक से दस कदम आगे रहा है और अब तो सरकार इतनी मजबूत आ गयी है कि इमरान के लिए न तो उगलते बन रहा है और न ही निगलते बन रहा है. अब आप पूछेंगे कि आखिर ऐसा क्या हो गया है? तो दरअसल रक्षामंत्री राजनाथ सिंह दशहरा मनाने की ख़ास राष्ट्रीय तैयारी कर रहे है और इससे देश में तो ख़ुशी का माहौल बना है लेकिन पडोसी बिचारा अभी से थर्राने लगा है और उसकी परेशानी का सबसे बड़ा कारण है भारत आ नया विमान राफेल.

दशहरे पर फ़्रांस जाकर राफेल की शस्त्र पूजा करेंगे राजनाथ सिंह, फिर उड़ायेंगे और भारत लाया जाएगा पहला पीस
रक्षा मंत्री आ इस बार का दशहरे का पूरा शेड्यूल बड़ा ही व्यस्त रहने वाला है. दशहरे की सुबह ही वो फ्रांस पहुँच जायेंगे जहाँ पर वो पहला राफेल विमान रिसीव करेंगे और वहाँ पर पंडित भी मौजूद रहेगा जिससे फाइटर जेट की पूजा करवाई जायेगी, नारियल फोड़ा जाएगा और फिर राजनाथ सिंह इस फाइटर जेट के अन्दर बैठेंगे. इस जेट को पायलट उडाएगा और वो फ्रांस के एक एयरबेस तक जायेंगे जहाँ से ये भारत लाया जाएगा.

ये पहला राफेल होगा जो भारत और फ्रांस की कम्पनी के बीच हुए सौदे के बाद में डिलीवर होगा और दशहरे के शुभ अवसर पर भारत की वायुसेना की ताकत में इजाफा होगा. इन्ही फाइटर जेट की अगली बड़ी खेप अगले साल ये सन 2020 तक आ जायेगी जिसे सुनकर के ही पा के पसीने छूट रहे है क्योंकि पाक के पास में इन आधुनिक फाइटर जेट का कोई भी करारा जवाब नही है और अभी वो इस आर्थिक स्थिति में भी नही है कि राफेल के टक्कर का कोई विमान या विमान की खेप खरीद लाये और इसी के चलते भारत साउथ एशिया के एयरस्पेस में तो किंग बन ही जायेगा.

हालांकि अभी तो इस डील को पूरा होने में काफी समय है मगर जब पहला पीस आ गया है तो बाकी भी आ ही जायेगा वैसे इसे लेकर के काफी बवाल खड़ा हुआ था जब राहुल ने प्रधानमंत्री पर राफेल डील में घोटाले के आरोप लगाये थे लें आखिर में कुछ भी नही निकला.