मोदी के इस फैसले पर नाराज है बांग्लादेश की प्रधानमंत्री शेख हसीना, बातो ही बातो में कही ये बात

347

भारत के वैसे अपने सिर्फ एक पडोसी देश पाक से अच्छे सम्बन्ध नही है और चीन तो अपने लालच के चलते दुनिया में किसी का भी सगा नही है लेकिन बाकी छोटे मोटे जो भी देश है सभी से भारत की शुरू से ही अच्छी पटती आयी है. बंगलादेश भारत का पुराना अच्छा दोस्त रहा है और क्योंकि दोनों देशो के बीच में व्यापार भी अच्छा है तो सब सही चल रहा है. इसी को आगे बढाने के लिए शेख हसीना भारत आयी हुई है और यहाँ पर वो कई ट्रेड कॉन्ट्रैक्ट भी साईन कर रही है मगर एक चीज को लेकर नाराज भी है.

भारत की तरफ से प्याज का निर्यात रोकने से नाराज है बांग्लादेश और वहाँ के लोग, कीमते छूने लगी है आसमान
बांग्लादेश हो या पाक हो कही न कही प्याज को लेकर के दोनों ही देश भारत पर ही निर्भर है. ऐसे में भारत में प्याज की कीमते बढ़ने के चलते सरकार ने इसकी जमाखोरी खत्म करने के लिए प्याज के निर्यात पर ही रोक लगा दी है ताकि जो भी है सब घरेलू बाजार में घरेलू दामो पर बिके. ऐसा करने पर बांग्लादेशी बाजार में प्याज की किल्लत हो गयी क्योंकि वो लोग भारत से प्याज का आयात नही कर पा रहे है. उनके यहाँ कीमत 125 से भी पार निकल चुकी है.

ऐसे में शेख हसीना ने बातो ही बातो में अपनी नाराजगी जाहिर करते हुए कहा ‘हमारे लिए प्याज में थोड़ी दिक्कत हो गयी है. मुझे नही पता आप लोगो ने प्याज भेजना क्यों बंद कर दिया है? मुझे तो अपने बावर्ची को ये तक बोलना पडा कि खाने में प्याज डालना ही बंद कर दो.’ इस तरह के बयान के जरिये शेख हसीना ने भारत को बताने की कोशिश की है कि आपके एक फैसले की वजह से हम लोग इतने ज्यादा परेशान हो गये है.

वैसे प्याज पर ये प्रतिबन्ध सिर्फ कुछ समय के लिए है. जब भारत में प्याज की स्थिति सामान्य हो जायेगी तो बंगलादेश को फिर से प्याज मिलने लगेगा और ये जरूरी भी है क्योंकि चाहे सरहद अलग हो लेकिन आज भी लोगो के मुंह का स्वाद तो एक सा ही है.