इमरान खान ने अपना संतुलन खोया, पूरी दुनिया को संयुक्त राष्ट्र के मंच से धमकी दे दी

484

फ़िलहाल के दिन संयुक्त राष्ट्र के इतिहास में काफी ज्यादा अहम् है क्योंकि दुनिया भर के अलग अलग देश अपनी अपनी तरह से संबोधन दे रहे है और हर किसी के अपने अपने एजेंडे है. मगर ख़ास बात ये है कि यहाँ पर सब लोग सकारात्मक बात करते है और पीएम मोदी ने भी यहाँ पर आतंक और युद्ध के खिलाफ करारा प्रहार किया. वो कहते है ‘भारत ने दुनिया को युद्ध नही बल्कि बुद्ध दिए है.’ वही भारत से इतर पाक ने अपना वही पुराना राग अलापा है जो अपने आप में इमरान खान की ही इज्जत खत्म करने वाला है.

इमरान ने दुनिया को दी धमकी, अगर हमारा भारत से युद्ध हुआ तो इसके परिणाम आपको भी भुगतने पड़ेंगे
संयुक्त राष्ट्र महासभा को संबोधित करते हुए इमरान खान ने कहा ‘दुनिया भर में इस्लामोफोबिया बड़ी तेजी से बढ़ रहा है. लडकियों को हिजाब उतारने को कहा जाता है जो चिंताजनक है. हमें आतंकवाद से जोड़ा जाता है. जब भारत में पुलवामा हुआ तब भी भारत ने हमें जिम्मेदार ठहरा दिया और पीएम मोदी ने दुनिया भर में अभियान चलाया और कहा मेने पाक को सबक सिखाया है. ये झूठ है.’

कश्मीर से जब कर्फ्यू हटेगा तो बुरे हालात होंगे और युद्ध भी हो सकता है. अगर दोनों के बीच में परम्परागत युद्ध होता है तो इसके लिए संयुक्त राष्ट्र ही जिम्मेदार होगा. आप लोग इसे रोके. हम पडोसी के मुकाबले चार गुना छोटे है और ऐसे में क्या हो सकता है? हमारे पास में विकल्प है या तो सरेंडर करे लेकिन हम आखिरी कतरे तक लड़ेंगे. यहाँ पर इमरान कहते है अगर दोनों देशो के बीच लड़ाई होती है तो इसके परिणाम बाकी सबको भुगतने पड़ेंगे. इमरान को बाद में लगा कि वो कुछ ज्यादा बोल गये है तो उन्होंने खुदको करेक्ट करते हुए कहा ये धमकी नहीं हिदायत है.

क्या होंगे इस भाषण के परिणाम?
परिणाम साफ़ है आप पूरी दुनिया को और विश्व के सबसे बड़े लोकतंत्र को धमकी देकर के ज्यादा समय तक ठीक हालत में तो नही रह सकते है. हो सकता है पाक की जनता को वही अंजाम भुगतने पड़े जो आज कोरिया के लोगो को किम जोंग की वजह से भुगतना पड़ रहा है.