पहले मुलायम से आलीशान बँगला खाली करवाया, अब योगी का एक और बड़ा फैसला

658

फ़िलहाल देश की राजनीति में जो कुछ भी चल रहा हो लेकिन सपा के संस्थापक कहे जाने वाले मुलायम सिंह के साथ में कुछ भी ठीक नही चल रहा है. लगातार उन्हें राजनीति के गर्त में धकेला जा रहा है और अब तो फ़िलहाल में यूपी के सबसे ताकतवर नेता कहे जाने वाले योगी आदित्यनाथ के निशाने पर भी वो आ ही गये है. वैसे यूपी में मुख्यमंत्री के अलावा पूर्व मुख्यमंत्रियों के लिए भी सुविधाओं की तगड़ी व्यवस्था की गयी थी ताकि सत्ता छूटने पर भी सुख न छूट जाए मगर लगता है अब सब छूटने वाला है.

मुलायम सिंह से ली गयी उनकी सरकारी मर्सिडीज, अब टोयोटा में चलना होगा
पहले ये प्रावधान था कि पूर्व मुख्यमंत्रियों को डेढ़ करोड़ की गाडी दी जाए जिसमे वो सफ़र करेंगे और अब उसी गाडी में कुछ तकनीकी दिक्कत आ गयी जिसकी सर्विसिंग में ही 26 लाख रूपये लग जाने थे. अब सरकार के पास में इतने फ़ालतू पैसा तो है नही कि गाडियों की सर्विसिंग में ही इतना पैसा फूंक दिया जाये जिसके चलते मुलायम सिंह से अब ये गाडी ले ली गयी है और उन्हें टोयोटा की प्राडो गाडी दी जायेगी. हालांकि ये भी एक लग्जरी गाडी ही कही जाती है.

इससे सपा के लोग थोड़े से नाराज जरुर हो सकते है क्योंकि उनका सरकारी स्टेटस जो गिर गया है मगर उन्होंने खुद कौनसा मुलायम सिंह का मान रख लिया था अखिलेश के आगे? आपको बता दे मुलायम सिंह को ये हाल ही में मिला कोई इकलौता झटका नही है बल्कि कोर्ट के आदेश के बाद में सरकार ने मुलायम सिंह और उनके परिवार से लोहिया ट्रस्ट का बँगला भी खाली करवा दिया था जिसे वो अपनी सम्पति मानकर के उसे दबा बैठे थे.

इसे आप एक तरह से सम्पति का हरण भी कह सकते है जो फ़िलहाल सपा और बसपा के साथ में हो रहा है. कभी मुलायम के बंगले और गाडी जा रहे है तो कभी मायावती के भाई के प्लाट जब्त हो रहे है. इससे मालूम चलता है कि योगी आदित्यनाथ बिना किसी झिझक और बिना किसी फ़िक्र के अपना काम कर रहे है.