मोदी के पीछे पीछे अमेरिका पहुंचे अमेरिका, एक नही 2 बार करवा बैठे बेइज्जती

185

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी इन दिनों अमेरिका में है और भारत के हितो को साधने की हर संभव कोशिश कर रहे है. ये अपने आप में बेहद ही जरूरी भी है और इसे ह्यूस्टन में लोगो ने सफल होते हुए देखा भी है. मगर मोदी के साथ ही साथ में अब उनके पीछे इमरान खान भी अमेरिका पहुँच गये है. वैसा उनका चक्कर तो यहाँ लगता ही रहता है. कश्मीर मुद्दा उठाने और कुछ भाषण देने के इरादे से पहुंचे इमरान खान को यूएस में एक नही बल्कि कई बार शर्मिंदा होना पडा है चलिए फिर ज़रा उनके बारे में जान भी लेते है.

एअरपोर्ट पर रेड कारपेट की जगह मिला छोटा सा लाल रंग का टुकड़ा, कोई अमेरिकी अधिकारी भी रिसीव करने नही पहुंचा
जब इमरान खान ने अमेरिका में लैंड किया तो उनके नीचे उतरते ही एक पायदान रखा हुआ था जबकि परम्परा लम्बा लाल कारपेट बिछाने की होती है. यही नही इमरान को रिसीव करने के लिए एक भी अमेरिकी अधिकारी तक नही पहुंचा था. उनके अपने एम्बेसी के लोगो ने इमरान को रिसीव किया और फिर वो वहाँ से चल दिये.

इमरान ने की ट्रम्प से मिलकर कश्मीर में हस्तक्षेप की अपील, राष्ट्रपति ने नकारा
पाक के प्रधानमंत्री ने फिर से ट्रम्प से कहा कि वो कश्मीर मामले में मध्यस्थता करे लेकिन हाऊडी मोदी के बाद ट्रम्प के सुर ही बदल गये. डोनाल्ड ट्रम्प ने कहा कि दोनों देशो को आपस में बैठकर के ही इस मुद्दे को सुलझाना चाहिये, ये काफी ज्यादा उलझा हुआ मसला है.हाँ अगर प्रधानमंत्री मोदी इस मामले में कुछ कहे तो फिर बात बन सकती है. सिर्फ इमरान के बोलने से कुछ नही हो जाएगा.

यही कुछ एक कारण है जिनके चलते अब इमरान खान की फजीहत हो चली है और शायद इसके बाद में वो संभलकर के आगे काम करेंगे और इमरान की वजह से एक बात का अफ़सोस है कि पाक की जनता को भी बार बार यूँ ही शर्मिंदा होना पड़ता है जो वो लोग नही होना चाहते है.