साथ चुनाव लड़ रही है बीजेपी और शिवसेना, मगर इस एक मुद्दे को लेकर है आपस में टकराव

137

महाराष्ट्र में चुनावी बिगुल फूंक दिया गया है. एक लम्बे समय के बाद में महाराष्ट्र में जो देखने को मिलेगा वो अपने आप में बड़ा ही रोचक है इस बात में कोई भी शक नही है. एक तरफ कांग्रेस पार्टी है और दूसरी तरफ भाजपा और शिवसेना का गठबंधन है जो दोनों पर ही काफी ज्यादा भारी पड़ रहा है इस बात में कोई भी शक नही है. दोनों पार्टियां लगभग एक ही एजेंडे पर है और उनका एक तरह की विचारधारा भी है मगर इसके बावजूद उनके बीच में एक चीज को लेकर के खाई जरुर बनी हुई है.

एरे जंगल की जगह पर बीजेपी चाहती है मेट्रो, शिवसेना कर रही विरोध
मुंबई में एरे जंगल है जिसमे हजारो की संख्या में पेड़ है और उन्हें काटा जा रहा है ताकि उस जगह पर मेट्रो का डिपो बनाया जा सके. इससे ट्रांसपोर्ट में भीड़ कम होगी और प्रदूषण में कमी आयेगी, वही मेट्रो कोर्पोरेशन ने कहा है कि जितने पेड़ कटेंगे उसके तीन गुना लगाये जायेंगे. इस पर पहले तो बीजेपी और शिवसेना दोनों ही विरोध में थी लेकिन अब मामला कुछ और हो गया है.

भारतीय जनता पार्टी का कहना है कि मुंबई में विकास के लिये ये करना जरूरी है और पेड़ तो लगाये ही जा रहे है वही शिवसेना इस मुद्दे पर बीजेपी के साथ में नही है. उनका कहना है कि मेट्रो डिपो के लिए किसी दूसरी जगह को ले लिया जाए और इसे छोड़ दिया जाये. इस पर तरह तरह की बयानबाजियां भी हुई है प्रदर्शन भी हुए है लेकिन सरकार और मेट्रो कोर्पोरेशन कुछ कारणों के चलते अपने फैसले पर पूरी तरह से डटे हुए है.

इस पर दरअसल शिवसेना और बीजेपी ही नही बल्कि पूरी मुंबई दो फाड़ हो गयी है. एक तरफ अमिताभ बच्चन और अक्षय कुमार जैसे लोग है जो मेट्रो चाहते है और दूसरी तरफ स्वरा भास्कर और मनोज वाजपेयी जैसे लोग है जो इसके विरोध में खड़े है. खैर इतिहास गवाह रहा है विकास की कीमत हमेशा से ही प्रकृति को ही चुकानी पड़ी है.