सरकार ने कश्मीर जाने से रोका था, अब गुलाम नबी आजाद ने उठाया ये कदम

244

गुलाम नबी आजाद फ़िलहाल काफी ज्यादा परेशानी में है और उससे भी ज्यादा जद्दोजेहद में है क्योंकि उनकी राजनीति अब बहुत ही बुरे संकट के दौर से गुजर रही है. आपको मालूम तो होगा कि कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटाकर के उसे केंद्र शासित प्रदेश बना दिया गया है. कोई हलचल न हो इसलिए प्रदेश में थोड़ी सख्ती बरती जा रही है और संभावित तौर पर माहौल खराब कर सकने वाले नेताओं को भी आने से रोक दिया गया है जिनमे गुलाम नबी आजाद भी शामिल है मगर गुलाब इस तरह से मान नही रहे है और उन्होंने एक और कदम लिया है.

गुलाम नबी आजाद ने सुप्रीम कोर्ट में दायर की याचिका, जाने दिया जाये कश्मीर
कांग्रेस नेता और सांसद गुलाम नबी आजाद ने प्रशासन द्वारा किये गये कार्य को चुनौती देते हुए सुप्रीम कोर्ट में याचिका दायर की है कि उन्हें कश्मीर में जाने दिया जाए क्योंकि उनका परिवार वहाँ पर रहता है और वो उनसे मिलना चाहते है. उन्होंने कहा कि ये याचिका मेने निजी तौर पर एक कश्मीरी होने के नाते दाखिल की है ताकि वो अपने जान पहचान और परिवार के लोगो से मिल सके.

अन्य नेता सज्जाद लोन तो पूरे फैसले के खिलाफ ही सुप्रीम कोर्ट पहुँच गये
सज्जाद लोन जो पीपल्स कांफ्रेंस पार्टी के प्रमुख है और कई बार टीवी चैनल्स पर भी नजर आते रहते है उन्होंने सुप्रीम कोर्ट में सरकार द्वारा इस अनुच्छेद को हटाये जाने और राज्य के पुनर्गठन के फैसले को चुनौती दी है. उन्होंने इस फैसले को ही गलत बता दिया है जिसके बाद में सोशल मीडिया पर भी उनकी भरसक आलोचना हो रही ही और लोग कह रहे है कि ये एक नाकाम कोशिश है क्योंकि कोर्ट कभी सरकार के इस फैसले के खिलाफ नही जा सकता है.

खैर अभी इन पर सुनवाई होनी है और देखना ये होता है कि गुलाम नबी आजाद पर दया दिखाकर के कोर्ट उन्हें कश्मीर में जाने देता है या फिर नही? इन हालातो में वो लगातार सरकार के खिलाफ बयानबाजी भी कर रहे है जिससे उनकी अपनी साख धूमिल हुई है.