कोर्ट के सामने गिडगिड़ाने लगे चिदम्बरम, इन आधारों पर माँगी जमानत

214

पी चिदम्बरम की हालत इन दिनों बड़ी खराब है और खराब होने के पीछे का कारण भी आप बखूबी जानते ही होंगे. खैर अभी तो आते है उस ड्रामे पर जो चिदम्बरम की तरफ से लगातार कोर्ट में किया जा रहा है. कोर्ट ने इन सब दलीलों को खारिच कर दिया है और उन्हें जमानत मिलने के कोई चांस भी नजर नही आते लेकिन आपको एक बार इन पर नजर जरुर डालनी चाहिये जिससे आपको पता चलेगा कि चिदम्बरम इन तकलीफों के चलते हुए कितने परेशान है और बाहर आने के लिये कितने उतावले हो रहे है?

बुढापे और बीमारियों का दिया हवाला, कोर्ट से दया दिखाने की अपील
चिदम्बरम की तरफ से कपिल सिब्बल और सलमान खुर्शीद जैसे बड़े बड़े वकील केस लड़ रहे है लेकिन फिर भी वो उन्हें कोई भी राहत दिलवा पाने में कामयाब नही हो रहे. हाल ही में जो जमानत की अर्जी उन्होंने कोर्ट में लगाई थी या फिर कम से कम उन्हें घर का खाना देने की अपील की गयी थी उसमे दिये गये कारण अपने आप में काफी अजीब और हैरान करने वाले है.

चिदम्बरम की तरफ से कहा गया है कि उनकी उम्र अभी 74 साल की हो गयी है और ऐसे समय में उन्हें एक साथ 9 तरह की बीमारियाँ भी है जिनसे वो जूझ रहे है. बस इस आधार पर उन्हें जमानत मिल जाये. हालांकि आपको बता दे कि कोर्ट चिदम्बरम की सारी दलीले सुन चुका है मगर वो उन्हें किसी तरह की रियायत उनके निजी कारणों के आधार पर देने को राजी नही है और इसे ही शायद क़ानून का डंडा पड़ना कहा गया है.

सीबीआई या ईडी की कस्टडी में जाने को तैयार है चिदम्बरम
पी चिदम्बरम कोशिश कर रहे है कि जेल से निकलकर कम से कम वो जांच एजेंसियों की कस्टडी में तो जाये जहाँ पर उन्हें रहने खाने को ढंग का मिल जाएगा. हालांकि जिस तरह से उन पर आरोप गहराते जा रहे है उसके बाद में तो ये भी होना बड़ा ही मुश्किल नजर आ रहा है.