महाराष्ट्र चुनाव से पहले उद्धव ठाकरे का बीजेपी शिवसेना गठबंधन पर बड़ा बयान

317

केन्द्रीय चुनाव हो गये जिसमे बीजेपी और एनडीए के घटक दलों ने मिलकर काफी भारी भरकम जीत हासिल की और इसमें शिवसेना का भी काफी बेहतरीन योगदान रहा है इस बात में कोई भी शक नही है क्योंकि दोनों ही पार्टियों का वैचारिक एजेंडा हमेशा से ही एक रहा है मगर विधानसभा चुनाव से पहले महाराष्ट्र में सीएम पद को लेकर के तनातनी शुरू हो गयी और अलग अलग विधानसभा चुनाव लड़ने तक की बाते होने लगी मगर इन सबके बीच में उद्धव ठाकरे ने कुछ कहा है जो काफी कुछ साफ़ करने वाला है.

उद्धव ठाकरे ने कहा ‘अटल है बीजेपी शिवसेना का गठबंधन, मोदी में है विकास करने की क्षमता’
खुद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की उपस्थिति में उद्धव ठाकरे ने कहा कि भारतीय जनता पार्टी और शिवसेना का गठबंधन अटल है और ये सत्ता में एक बार फिर से वापसी करेगा. पीएम मोदी के नेतृत्व में देश में विकास करने की अपार क्षमता मौजूद है. अनुच्छेद 370 हटाने और इसके अलावा चंद्रयान 2 जैसे मिशन के लिए भी वो बधाई के पात्र है. अब वो भव्य राम मंदिर निर्माण और समान नागरिक सहिंता लागू करवाए, हम सभी लोग इसका इन्तजार काफी समय से कर रहे है.

बीच में हुई थी तनातनी, अलग चुनाव लड़ने पर विचार करने लगी थी शिवसेना
सीटो के बंटवारे और मुख्यमंत्री पद को लेकर के शिवसेना और बीजेपी के राज्य नेतृत्व के बीच में काफी बहस चली थी और इसके बाद में शिवसेना ने तो अलग से चुनाव में उतरने का मूड तक बना लिया था लेकिन अब परदे के पीछे ऐसा क्या हुआ कि अचानक से दोनों फिर से पास आ गये ये बात तो शाह और मोदी ही जानते है. अब इन दोनों ही पार्टियों के साथ आने का मतलब मनसे और कांग्रेस के लिए फिर से हार की संभावनाए अपार बन जाती है.

उद्धव ठाकरे का इस तरह से उठकर के बयान देना साफ़ बताता है कि वैचारिक एजेंडे के आधार पर बना ये गठबंधन अब टूटेगा नही हालांकि भविष्य के बारे में कोई भी बात कहना मुश्किल है लेकिन अभी शिवसेना का रूख सामान्य हो चला है इतना जरुर कहा जा सकता है.