धारा 370 हटने के बाद में पहली बार बोले अजीत डोभाल, पाक के छक्के छूटे

469

अजीत डोभाल अपने आप में काफी बड़ा नाम है जिन्हें सभी लोग जानते है और लोग मानते भी खूब है क्योंकि उनकी मौजूदगी में देश ने सर्जिकल स्ट्राइक और एयर स्ट्राइक जैसी चीजे देखी है और तो और कही न कही कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटने के पीछे भी कही न कही अजीत डोभाल का ही सबसे बड़ा हाथ माना जाता है और ये बात माननी ही होगी. उन्होंने राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार होने के नाते अपना फर्ज पूरी तरह से निभाया है लेकिन लोग इन्तजार कर रहे थे कि वो कुछ बोले और आखिरकार डोभाल बोले भी है.

डोभाल बोले ‘370 विशेष दर्जा नही बल्कि विशेष भेदभाव था’
अजीत डोभाल ने मीडिया से बातचीत करते हुए कहा ‘जम्मू कश्मीर के 92.5 फीसदी इलाको में कोई भी पाबंदी नही है, सब कुछ पूरी तरह से सामान्य है. अब हालात तेजी से ठीक हो रहे है और ये फैसला उन लोगो के हक़ में ही लिया गया है. अनुच्छेद 370 कोई विशेष दर्जा नही था, बल्कि विशेष किस्म का भेदभाव था जो जम्मू कश्मीर के लोगो के साथ में हो रहा था. पाक अभी भी घाटी में हालात बिगाड़ने की कोशिश कर रहा है लेकिन वो अपने मंसूबों में कभी भी कामयाब नही हो पायेगा’.

डोभाल को जाता है पूरे घटनाक्रम का श्रेय
पीएम मोदी और अमित शाह तो सिर्फ दिल्ली में बैठकर के नजर रखे हुए थे लेकिन जमीन पर जाकर के सेना के साथ में पूरा तालमेल बिठाना और लगातार कश्मीर में हालत सामान्य करने के पीछे के मास्टरमाइंड तो अजीत डोभाल को ही कहा जाता है और अब वो इस पर जिस तरह से बोल रहे है वो अपने आप में उनके कॉन्फिडेंस के लेवल को जाहिर कर देता है.

आपको बता दे डोभाल का एनएसए का कार्यकाल खत्म हो गया था लेकिन उनके काम करने के तरीके को देखते हुए उनके कार्यकाल को सरकार ने और भी ज्यादा बढ़ा दिया ताकि आने वाले समय में उनका उपयोग देश को सुरक्षित रखने के लिए किया जा सके और किसी के लिए जीवन में इससे बड़ी उपलब्धि भला और क्या होगी?