एनडीटीवी के पत्रकार ने की ISRO के वैज्ञानिकों से बदतमीजी, बेहूदगी की हदे पार

460

अभी हाल ही में इसरो के मिशन चन्द्रयान 2 को लेकर के एक छोटी सी गडबडी हो गयी. हालांकि इसका मतलब ये नही है कि मिशन ही फेल हो गया है लेकिन दिक्कत खड़ी हुई है क्योंकि कल देर रात को चाँद पर लैंड करने जा रहे विक्रम और प्रज्ञान नाम के रोवर से कनेक्शन टूट गया. इसके बाद में लोग काफी दुखी हुई लेकिन जिन्हें अपना एजेंडा चलाना होता है वो तो अपना एजेंडा ही चलाते है और इसरो द्वारा रखी गयी प्रेस वार्ता में एक पत्रकार ने भी बिलकुल ऐसा ही किया है जिसके बाद में पूरे चैनल की लोग काफी ज्यादा भर्त्सना कर रहे है.

एनडीटीवी के पत्रकार ने जानकारी दे रहे इसरो के वैज्ञानिक को झिडक दिया
जब इतना कुछ हो गया तो इसरो के एक वैज्ञानिक जिनका नाम डी पी कार्निक है वो इस मिशन के सम्बन्ध में जानकारी देने स्टेज पर आये और तभी एनडीटीवी के पत्रकार पल्लव बागला उन पर चिल्लाते और उन्हें झिडकते हुए कहने लगे ‘क्या ऐसे हालातो में इसरो के चीफ को यहाँ पर मौजूद नही रहना चाहिये था? क्यों एक जूनियर साइंटिस्ट एक मिशन की असफलता की जानकारी दे रहे है’. पल्लव बागला की आवाज इतनी भयानक थी कि एक बार के लिये वैज्ञानिक खुद भी थोड़े से टेंशन में आ गये.

लोगो ने किया विरोध तो पत्रकार ने मांगी माफ़ी
सोशल मीडिया का जमाना है और पल्लव बागला की इस हरकत के बारे में सभी को मालूम चलता चला गया जिसके बाद में लोगो ने उन्हें और उनके चैनल को खरी खोटी सुनानी शुरू कर दी. इसके बाद में जब मामला बढ़ते दिखा तो इस पत्रकार ने तुरंत माफ़ी मांग ली और कहा मैं इसरो का सम्मान करता हूँ, इसे मेरे संगठन से न जोड़ा जाए.

कांग्रेस ने की पत्रकार को बर्खास्त करने की मांग
कांग्रेस के नेता अभिषेक मनु सिंघवी ने मांग की है कि एनडीटीवी ऐसे पत्रकारो को अपने संस्थानों में जगह न दे और उन्हें तुरंत बाहर निकाले. ट्विटर पर भी इस पत्रकार की जमकर के आलोचना की जा रही है और इसके बाद में आगे से बाकी पत्रकार भी मर्यादा का ध्यान रखेंगे.