कुछ ऐसी कटी चिदम्बरम की जेल में पहली रात, खानी पड़ी सादी दाल रोटी

140

देश के पूर्व वित्त मंत्री पी चिदम्बरम की गृहदशा इन दिनों में कुछ ठीक चल नही रही है और इसके पीछे का कारण है कि उनके द्वारा किये घोटालो को की लिस्ट जो आज उन पर ही बेहद भारी पड़ रही है और इतनी भारी पड़ रही है कि चिदम्बरम को पहले तो सीबीआई की हिरासत में अपनी राते काली करनी पड़ी है और इसके बाद में अब चिदम्बरम को जेल की सलाखों के पीछे यानी तिहाड़ जेल में भेज दिया गया जहाँ पर जिन्दगी अपने आप में बेहद ही कठिन होती है.

अलग सेल में चिदम्बरम को रखा गया, मिला सादा खाना जेल के नियम अनुसार
आईएनएक्स घोटाले के आरोपी पी चिदम्बरम को तिहाड़ के जेल नम्बर 7 के सेल नम्बर 15 में रखा गया है. उन्हें जेल नम्बर चार के रास्ते से अन्दर लाया गया जहाँ पर पहले तो उनका नियम के अनुसार मेडिकल किया गया और फिर  उनके अपने सेल में भेज दिया गया. अब उन्हें जेल के नियम के अनुसार ही चलना पड़ रहा है जहाँ पर चिदम्बरम को सुबह सात से आठ बजे के बीच में नाश्ता दिया जाता है. 12 बजे चिदम्बरम को खाना मिलना है और रात का खाना चिदम्बरम को रात के आठ बजे के आस पास दे दिया जाता है.

चिदम्बरम की सेल में वो अकेले ही रखे गये है और उनके लिए अपना पर्सनल टॉयलेट भी है. हालांकि जेल में आम तौर पर ऐसा होता नही है लेकिन चिदम्बरम को मिला है. इसके अलावा पी चिदम्बरम को टीवी भी देखने के लिए मिलता है लेकिन इसका समय सिर्फ दिन में डेढ़ घंटा ही होता है. इससे अधिक की इजाजत उन्हें नही मिलती है. वही चिदम्बरम की बात करे तो सूत्र बताते है वो पूरी तरह से मुंह लटकाए हुए और हताश बैठे हुए थे मानो अब कोई उम्मीद ही नही बची है.

अगर अब चिदम्बरम पर लगे हुए आरोप सही सिद्ध हो जाते है यानी वो दोषी साबित हो जाते है तो संभव है उन्हें आने वाले कई साल इसी जेल में निकालने पड़े और ये अपने आप में एक शानो शौकत से रहने वाले इंसान के लिए ऐसी जिन्दगी बिताना बेहद ही मुश्किल होगा.