कोर्ट ने चिदम्बरम को भेजा तिहाड़, जेल में पहुँचते ही रखी ये 3 हाई फाई डिमांड

440

अभी हाल ही में पी चिदम्बरम को सीबीआई कोर्ट ने दिल्ली की तिहाड़ जेल भेज दिया है. उन पर आईएनएस मीडिया घोटाले समेत कई गंभीर आरोप लगे है जिसमे वो प्रथम स्तर के आरोपी बनाये गये है और यही नही वो पिछले काफी लम्बे समय से सीबीआई की हिरासत में ही है मगर तब वो जेल में नही थे लेकिन अब मौके की नजाकत और हालातो को देखते हुए आखिरकार कोर्ट ने चिदम्बरम को जेल भेज दिया है और 20 सितम्बर तक उन्हें वही पर ही रहना होगा और जेल में जाते ही चिदम्बरम ने अपनी कुछ मांगे भी रख दी है.

चिदम्बरम ने रखी वेस्टर्न टॉयलेट समेत और भी कई मांगे
चिदम्बरम को जब जेल भेजा गया तो उन्होंने अपने पद और उम्र का हवाला देते हुए कुछ एक मांगे रखी है जिन्हें कोर्ट ने लगभग मान भी लिया है. चिदम्बरम ने पहली मांग तो ये रखी है कि जेल में उन्हें वेस्टर्न टॉयलेट उपलब्ध करवाया जाए, दूसरी मांग चिदम्बरम ने ये रखी है कि उनके लिये अलग से बैरक हो उनके साथ में किसी को भी रखा करा न जाये और अंतिम मांग के अनुसार उन्हें जेल में ही सुरक्षा देने की मांग की गयी है क्योंकि वो जेड लेवल की सुरक्षा रखते है.

इसके अलावा भी उन्हें बैरक में ही चश्मा और दवाईयां वगेरह उपलब्ध करवाने जैसी भी छोटी मोटी मांगे रखी गयी है, साथ ही उन्हें जेल में सही खाना भी चाहिए जो कि कोर्ट ने माना भी लिया है और अब चिदम्बरम को जेल भेज दिया गया है. उन्हें जेल में ही रहना होगा और ये उनकी इस उम्र के लिहाज से उनके लिए बेहद ही कष्टदायक होने जा रहा है ये बात हम सभी लोग जानते है मगर कर्म तो आखिर कर्म है.

कब तक रहेंगे जेल?
फ़िलहाल के लिए तो कहा जा रहा है कि वो 20 तक जेल में है लेकिन कोई भरोसा नही है क्योंकि कोर्ट के प्रोसेस चलेंगे तब तक भी उन्हें जेल में रखा जा सकता ही और उनके जेल में रहने के दिन बढ़ते चले जायेंगे. अगर साक्ष्य उनके खिलाफ मिलते है तो उनका तिहाड़ से बाहर निकलना बेहद मुश्किल हो जाएगा.