कश्मीर से 370 हटाने के बाद ये एक और बड़ा काम करने जा रहे है अमित शाह

852

अभी हाल में कश्मीर को लेकर के जो कुछ भी हुआ वो सबके सामने है। जिस तरह से सरकार ने पूरे हालात को काबू करते हुए न सिर्फ जम्मू कश्मीर से धारा 370 हटायी बल्कि साथ ही साथ कश्मीर को एक केंद्र शासित प्रदेश भी बना दिया गया जो अपने आप मे बड़ी बात है। इसमे सबसे बड़ी भूमिका कही न कही गृहमंत्री अमित शाह ने निभायी थी ये हम सभी जानते है, आखिर फ्रंट से पूरा मोर्चा उन्होंने ही सम्भाला था लेकिन अब ऐसा ही कुछ और भी शाह ही करने जा रहे है जिसका इंतजार एक दो नही बल्कि कई राज्यो को था।

शाह ने ली 10 राज्यो के मुख्यमंत्रियों के साथ मीटिंग, नक्सलियों का पूर्ण रूप से सफाया करने पर हुई चर्चा
अमित शाह ने अभी हाल ही में एक बेहद ही हाई लेवल की मीटिंग की थी जिसमे उन्होंने 10 राज्यो के मुख्यमंत्रियों को भी शामिल किया गया। ये मुख्यमंत्री मध्यप्रदेश, उत्तर प्रदेश, बिहार, झारखण्ड, छत्तीसगढ़, तेलंगाना, बिहार और बाकी राज्यो से थे। शाह ने बताया कि अभी जो भी नक्सल विरोधी आपरेशन चल रहे है उनकी सही तरीके से समीक्षा की जाएगी और उस आधार पर केंद्र सरकार तय करेगी कि इनका क्या करना है? शाह ने मीटिंग में बड़े ही आक्रामक तरीके से साफ किया कि देश और आम नागरिकों को नुकसान पहुंचाने वालो को तो वो बख्शने के मूड में बिल्कुल भी नही है।

आपकी जानकारी के लिये बता दे कि 2014 से 2018 के बीच होने वाले नक्सली हमलो और उनके कारण होने वाले जान माल के नुकसान मे भारी कमी आयी है। मगर अब शाह इस मूड में है कि इस नासूर को पूरी तरह से जड़ से ही उखाड़ फेंका जाये क्योंकि हर वर्ष करोड़ो रूपये का व्यय इन पर लगाम लगाने के खर्च हो रहा है।

ममता बनर्जी को भी बुलाया था लेकिन नही आयी
बंगाल में भी इनका प्रभाव है जिसके चलते शाह ने बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी को भी मीटिंग में निमंत्रित किया था लेकिन वो नही पहुंची। आपको बता दे बीजेपी से तकरार बढ़ने के बाद से ही वो किसी भी भाजपा सरकार की आधिकारिक मीटिंग में भी नही पहुंच रही है, जिससे जाहिर तौर पर ममता या उनकी पार्टी का कोई निजी नुकसान नही हुआ लेकिन बंगाल के लोगो को इससे हानि उठानी ही पड़ रही है