भारतीय जनता पार्टी के दिग्गज नेता का निधन, लम्बे समय से चल रहे थे बीमार

2181

इन दिनों राजनीतिक गलियारों में माहौल कुछ बेहतर नही है और बिलकुल भी नही है ये बात तो माननी ही पड़ेगी क्योंकि कुछ समय पहले ही सुषमा स्वराज के निधन की खबर आयी थी. इससे कुछ ही समय पहले कांग्रेस की नेता शीला दीक्षित का भी निधन हुआ था जिसके चलते लोगो के बीच में बड़े ही दुःख का माहौल था ये बात हम सभी जानते है मगर इन सबके बीच में दुःख भी कई लोगो को होता है जब एम्स अस्पताल में अरुण जेटली को इतने लम्बे समय से वेंटीलेटर पर देखते है और अब एक और बुरी खबर बीजेपी के दिग्गज नेता और पूर्व मुख्यमंत्री नही रहे.

मध्यप्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री बाबूलाल गौर का देहांत
बाबूलाल जी की उम्र अभी 89 वर्ष थी और वो पिछले काफी लम्बे समय से बीमार भी चल रहे थे जिसके चलते वो अस्पताल में भर्ती थे. 14 दिनों से लगातार उन्हें वेंटीलेटर के सपोर्ट पर रखा गया था लेकिन आखिरकार उन्हें अपने प्राण त्यागने पड़े. उनके जाने के बाद में बीजेपी दफ्तरों में और पूरे मध्यप्रदेश में ख़ास तौर पर शोक का माहौल हो चला है.

संघ से जुड़े और मुख्यमंत्री की कुर्सी तक पहुंचे
बाबूलाल गौर का जीवन अपने आप में एक आदर्श के तौर पर देखा जाता रहा है. उन्होंने सन 1946 में ही राष्ट्रीय स्वयमसेवक संघ को ज्वाइन कर लिया था और उसके लिए काम किया. फिर वो भाजपा में आये और उन्होंने भारतीय मजदूर संघ की भी स्थापना की जो आज सबसे बड़ा मजदूर संघ है. संगठन के लिए उनकी कार्य और निष्ठा किसी से भी छुपी हुई नही रही जिसके चलते उन्हें मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री का पदभार संभालने की अवसर भी मिला. हालांकि ये पद उनके पास अधिक समय तक तो नही रहा मगर जब तक रहा तब तक उन्होंने बड़ी ही इमानदारी के साथ में उस पद को निभाया.

उनके निधन पर शिवराज सिंह चौहान समेत बीजेपी के भी कई हाई कमान के नेताओं ने भी अपनी तरफ से श्रद्धांजली अर्पित की है. उनका न होना बीजेपी के लिए तो अपने आप में एक बहुत ही बड़ी क्षति है क्योंकि वो मध्य प्रदेश में बीजेपी को स्थापित करने में बहुत ही अहम् रहे है.