पाकिस्तानी मूल की मुस्लिम महिला 24 साल से बांधती है पीएम मोदी को राखी

364

राखी का त्यौहार आने वाला है जिसे देश भर में बड़े ही धूम धाम के साथ में मनाया जाता है और ये ख़ास तौर पर भाई और बहन दोनों का त्यौहार कहा जाता है. बहन इस दिनों पर अपने भाई को राखी बांधती है और भाई उसे रक्षा करने का वचन देता है. अब ये त्यौहार छोटे से लेकर हर बड़े इंसान के जीवन में होता है. हमारे देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी खुद ही ये त्यौहार हर साल मनाते है लेकिन अधिकतर लोगो को इस बारे में कोई जानकारी ही नही है. चलिए फिर आपको भी इस बारे में बताते है.

24 साल से प्रधानमंत्री मोदी को राखी बाँध रही है कमर मोहसिन शेख
कमर मोहसिन शेख मूल रूप से पाकिस्तान की रहने वाली है लेकिन फिर उन्होंने दशको पहले हिन्दुस्तान के ही एक व्यक्ति से शादी कर ली जो अहमदाबाद में पेंटर का काम करता था. फिर वो भारत में ही रहने लगी. ये उस दौर की बात है जब मोदी जी आरएसएस के प्रचारक के तौर पर काम करते थे और तब उनकी मुलाक़ात कमर मोहसिन से हुई थी और उन्होंने नरेंद्र मोदी को राखी बाँध दी तब से ही वो 24 साल से लगातार उन्हें राखी बाँध रही है.

जब मोदी जी गुजरात के मुख्यमंत्री बने थे तब भी वो उनके पास जाती थी और उनको राखी बांधती थी. अब जब वो प्रधानमंत्री बन गये तब भी वो आती है. एक आध बार बहन को लगा कि प्रधानमंत्री जी काम में व्यस्त होगे तो जाना उचित नही है लेकिन तब मोदी जी ने खुद अपनी बहन को फोन किया और फोन करके बुलाया. कमर मोहसिन शेख को ये देखकर के बड़ी ही ख़ुशी हुई कि पीएम बनने के बाद भी वो कभी भी उन्हें भूले नही है और एक बहन को भला क्या चाहिए?

तोहफे में मांगती है सिर्फ आशीर्वाद
राखी बंधवाने के बाद जब भी प्रधानमंत्री बहन से पूछते है कि तुम्हे तोहफे में क्या चाहिए? इस पर जवाब देते हुए वो कहती है मुझे तो बस आपका आशीर्वाद चाहिये, और कुछ भी नही चाहिये. यही चीज इनके रिश्ते को आदर्श बना देती है.