मोदी के कश्मीर से 370 हटाते ही मुकेश अम्बानी ने कही ये बात, बोले ‘हम भी तैयार’

281

कश्मीर अब हिन्दुस्तान का हिस्सा बन चुका है और इस बात में कोई भी दो राय नही है. धारा 370 हट चुकी है और सरकार ने अपना जो भी वादा किया था वो भी निभा ही दिया है. सब कुछ काफी ज्यादा सही तरीके से हो भी चुका है. हालांकि अभी भी कश्मीर में धारा 144 कई जगहों पर लागू है और इसके पीछे की वजह है अभी भी थोडा बहुत डर तो है कि कुछ भी उलटा सीधा हो सकता है और उससे बचने के लिए एहतियात बरतनी जरुरी है, लेकिन उद्योगपति तो अभी से ही तैयार है वो भी कमर कसकर.

क्या कुछ बोले है सबसे बड़े उद्योगपति मुकेश अम्बानी?
जम्मू कश्मीर में अब छूट मिलने से कई उद्योगपति बेहद ही खुश है लेकिन सबसे ज्यादा उत्साहित गुजराती भाई है और ये इस बात से साबित भी होता है जब उन्होंने अपना बयान सबके सामने रखा. मुकेश अम्बानी ने कहा ‘हम जम्मू कश्मीर और लद्दाख के विकास के लिए पूरी तरह से प्रतिबद्ध है. जम्मू कश्मीर के विकास के लिए हम एक स्पेशल टास्क फाॅर्स का गठन भी करेंगे. घाटी के विकास के लिए जल्द ही घोषणाये की जायेगी’.

किस तरह की हो सकती है घोषणाये?
जम्मू कश्मीर में एक विशेष तरह का एग्रीकल्चर है और इसके चलते अच्छे खासे फ़ूड प्रोसेसिंग प्लांट लगाये जा सकते है, राज्य में जमीन के भीतर मौजूद खनिज पदार्थो की खोज हो सकती है, कपास से सम्बंधित बिजनेस खड़े किये जा सकते है, कनेक्टीविटी को काफी हद तक मजबूत किया जा सकता है, कश्मीरी प्रोडक्ट्स को एक्सपोर्ट लेवल का बनाया जा सकता है और रिलायंस के मौजूदा डिजिटल और टेक प्रोडक्ट्स को भी एक शांत माहौल में बिक्री मिल सकेगी. लद्दाख में तो सरकार पहले से ही सोलर पॉवर की संभावना को जता चुकी है.

ऐसा नही है कि कश्मीर में पहले विकास नही हुआ है. वहाँ पर जनसँख्या कम होने और खनिज और खेती के लिए अच्छी खासी भूमि और वातावरण उपलब्ध होने की वजह से लोगो को ठीक ठाक कमाई होती रही है लेकिन इसे सही से साधा जाये तो ये कई गुना बढ़ाया जा सकेगा.