मौलाना ने बकरीद पर कुर्बानी देने वालो से गाय को लेकर की ये अपील

410

बकरीद का त्यौहार आ गया है जिसे मीठी ईद के बाद में मुस्लिमो में सबसे ज्यादा बड़ा पर्व माना जाता है. लोग इस पर काफी ज्यादा खुश भी नजर आते है और हर किसी को अपना अपना पर्व मनाने की छूट भी है लेकिन कई बार इस त्यौहार को लेकर के लोगो के बीच में तनाव भी हो जाता है क्योंकि कई खबरे फैली जिनमे गाय को नुकसान पहुंचाने की की बात हुई और ये हिन्दुओ में पवित्र जीव माना जाता है और इस तनाव को कम करने के लिये अब एक मौलाना ने एक अपील की है.

सूफी अकादमी के सचिव मौलाना ने की अपील, गाय की कुर्बानी भूलकर के भी न दे
सूफी अकादमी के सचिव सैय्यद तारिक ने कहा कि हमारा धर्म मूल रूप से शान्ति और भाईचारा सिखाने का काम करता है. मैं इस मौके पर आप सभी से अपील करता हूँ कि आप लोग क़ानून का पालन करे और गाय की कुर्बानी न दे. हमें उस भूमि का सम्मान करना चाहिये जिस जगह पर हम लोग रहते है. उनकी बात को वाकई में लोग सीरियसली ले रहे है और उन्होंने इस तरह के काम करने से खुदको रोका है.

अपनी बात को आगे बढाते हुए सैय्यद तारिक कहते है ‘ पिछले दो सालो से हम लोग सभी प्रतिबंधित जानवरों की कुर्बानी न देने की अपील कर रहे है. इस काम में सिर्फ भेड़ और ऊँट का इस्तेमाल ही किया जाना चाहिये. अगर गैर मुस्लिम लोग गाय को पवित्र मानते है तो हमें उसे नुकसान पहुंचाने से बचने की जरूरत है.’ सिर्फ यही अकेले ही है बल्कि कई और भी लोग है जिन्होंने इस तरह से लोगो से शान्ति के साथ में त्यौहार मनाने की अपील की है ताकि समाज में सद्भाव बना रह सके.

सरकार और नेता भी दे रहे है बधाई
देश के प्रधानमंत्री से लेकर योगी आदित्यनाथ और बाकी तमाम नेताओं ने भी ईद के त्यौहार पर जमकर के बधाई दे रहे है और उन्हें खुलकर के त्यौहार मनाने को भी कहा गया है. इन सबसे बेहतर काम तो कश्मीर में हो रहा है जहाँ पर सरकार खुद भेड़ और बकरे वगेरह उपलब्ध करवा रही है.