मोदी का मास्टरस्ट्रोक: जम्मू कश्मीर और लद्दाख वालो के खाते में भेज दिया इतना रूपया

567

भारत सरकार ने हाल ही में एक बड़ा ही गजब का फैसला लिया है जिसकी सब तरफ तारीफ़ भी की ही जा रही है ये बात किसी से भी अछूती नही है. कश्मीर से अब 370 हट चुकी है और तो और अब जम्मू कश्मीर को केंद्र शासित प्रदेश भी बनाया गया है लेकिन अब लोग थोड़े से नाराज तो है और ख़ास तौर पर कश्मीर के लोग जो इस अनुच्छेद के पक्ष में थे और अब सरकार इनका विश्वास जीतने की हर संभव कोशिश कर रही है और इसकी शुरुआत आपने पीएम के भाषण को सुनकर के होते हुए देख ही ली होगी.

सबके खाते में पहुँच चुका है 4000 रूपये, आठ लाख परिवारों को हुआ फायदा
आपको प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि स्कीम के बारे में तो मालूम ही होगा. इसमें सभी किसानो को प्रतिवर्ष 6000 रूपये देने की घोषणा की गयी है. पहले इन्हें भेजने में दिक्कत आती थी क्योंकि कश्मीर में केंद्र का उतना कण्ट्रोल नही था लेकिन अब ये सीधा केंद्र शासित है और ऐसे में मोदी सरकार ने पहले ही कश्मीर के और जम्मू के अलावा लद्दाख के लगभग 8 लाख परिवारों को 4-4 हजार रूपये भेज दिये है. अन्य लोगो के लिए प्रोसेस अभी भी चल रहा है.

गौरतलब है कि यहाँ पर लोग अधिकतर खेती पर ही निर्भर है. कुछ एक लोग केसर और ड्राई फ्रूट के अलावा सेव जैसे फलो की खेती करते है और कई लोग है जो मक्का, ज्वार और बाजरे की भी खेती करते है. इस छोटे से अमाउंट को इतना जल्दी और तुरंत भेजने के पीछे का सीधा सीधा मकसद सरकार का ये सन्देश देना है कि कश्मीरियो का भारत के साथ रहने में कितना फायदा है? अब इसका प्रभाव किस हद तक नजर आता है ये तो आने वाले समय में ही पता चल पायेगा.

हालांकि अभी भी एक बहुत ही बड़ा तबका है जो सरकार से नाराज है लेकिन उसके लिए एनएसए अजीत डोभाल जाकर के लोगो से मिल रहे है, राज्यपाल सत्यपाल मलिक भी लोगो से निजी तौर पर मिल रहे है जिससे कि वो लोग शांत हो सके और कही न कही इसका परिणाम देखने को भी मिलता है.