नेहरू ने की थी 370 पर एक भविष्यवाणी, जिसे मोदी ने सच कर दिया

461

कश्मीर में अब एक नया अध्याय लिखा जा रहा है और इस बात में कोई भी भी शक नही है क्योंकि अब उसे पूरी तरह से भारत में शामिल कर दिया गया है. न तो कोई अनुच्छेद 370 की अडचन बची है और न ही अब एक देश में दो झंडे होने वाले है. ये अपने आप में गर्व करने लायक बात ही है मगर क्या आप जानते है मोदी सरकार ने आज जो किया है उसकी भविष्यवाणी देश के पहले प्रधानमंत्री पंडित जवाहरलाल नेहरु ने पहले ही कर दी थी. सुनकर आश्चर्य जरुर हो रहा होगा लेकिन बात सच है.

पंडित प्रेमनाथ को लिखे पत्र में किया था नेहरु ने इसका जिक्र उनके एक पत्र में लिखा हुआ मिलता है ‘ वास्तविकता ये है किसंविधान में इस धारा के रहते हुए भी जो जम्मू कश्मीर को विशेष राज्य का दर्जा देती है, काफी कुछ तो किया ही जा चुका है और जो भी थोड़ी बहुत दिक्कते है वो धीरे धीरे समाप्त हो जायेगी. सवाल भावुकता का अधिक है बजाय के कुछ होने के.’ पंडित नेहरु ने खुद कहा था कि ये अनुच्छेद धीरे धीरे समाप्त हो जायेगा और वाकई में ये हो गया.

कांग्रेस का इसे हटाने का विरोध नेहरु के विचारों के खिलाफ
कांग्रेस में एक बहुत ही बड़ा तबका है जो मोदी सरकार के इस फैसले को बिलकुल भी नही मान रहा है और जमकर के विरोध कर रहा है. वही उनकी ही पार्टी को खड़े करने वाले नेहरु ने खुद लिखा था कि इसे तो भविष्य में खत्म कर दिया जाएगा. अब जिसे पार्टी मानती है और जिसके सिद्धांतो पर चलने की बात करती है उसे ही साइड करके अब सिर्फ वोट के लिए राजनीति खेली जायेगी इस निर्णय के बाद तो ऐसा ही लग रहा है.

हालांकि ऐसा नही है कि कांग्रेस ने इस पंगु करने का प्रयास नही किया. इस अनुच्छेद में अब तक कई सारे संसोधन किये जा चुके है जिनके चलते भारत की केंद्र सरकार का दखल केंद्र सरकार में बढ़ता चला गया और अब ये अपने अंत पर पहुँच चुका है जिसका श्रेय मोदी और शाह को दिया जा रहा है.