कश्मीर में धारा 370 लाने वाले राजा हरि सिंह के बेटे ने इसे हटाने पर क्या कहा?

381

भारत के इतिहास में कुछ तारीखे यूँ दर्ज हो जाती है जो हजारो सालो तक मिटाये नही मिटती है और ऐसी ही एक तारीख हाल ही में आयी जब कश्मीर से अनुच्छेद 370 को समाप्त कर दिया गया और उसे एक केंद्र शासित प्रदेश बना दिया गया. अब कुछ एक सामान्य स्थिति बनाने के नजरिये से किया गया है और कही न कही ये जरूरी भी था. अब कांग्रेस इस पर बड़ा ही अलग रूख अख्तियार किये हुए थे, उनकी नजर में तो ये एक अन्याय की तरह था लेकिन क्या कहते है डॉक्टर करण सिंह जो राजा हरि सिंह के बेटे है और कांग्रेस के सदस्य भी है.

राजा हरि सिंह के बेटे ने किया फैसले का स्वागत, अपना पूरा विश्लेषण रखा
जहाँ कांग्रेस अपनी एक इतर राय रखती है वही कांग्रेस से ही राज्य सभा सांसद रहे डॉक्टर करण सिंह ने इस फैसले का स्वागत किया है. वो कहते है लद्दाख का केंद्र शासित प्रदेश के अस्तित्व का स्वागत करते है. संसद ने ये फैसला काफी जल्दबाजी में लिया है और इस वजह से कई उतार चढ़ाव से गुजरना होगा लेकिन इस फैसले में कई अच्छी बाते भी है.

इन धाराओं में जो लोगो में लिंग के आधार पर भेदभाव किया गया है, पाक से आये हुए शरणार्थियो के साथ जो भेदभाव हुआ है वो ख़त्म होगा. ये बदलाव वाकई में स्वागत योग्य कदम है. हालांकि वहाँ की दो बड़ी क्षेत्रीय पार्टियों को देशविरोधी कहना भी गलत होगा. उन्होंने भी बलिदान दिए है इसलिए उनसे बात होनी चाहिए. मेरी कोशिश हमेशा से ही जम्मू कश्मीर के लोगो के हितो की सुरक्षा के लिए ही रही है.

कांग्रेस के लिए झटका है ये बयान
कांग्रेस पहले ही इस मुद्दे पर दो फाड़ हो चुकी है दीपेन्द्र हुड्डा और ज्योतिरादित्य सिंधिया जैसे बड़े नेता पहले ही बीजेपी के पक्ष में बोल चुके है और अब करण सिंह का इस तरह से सरकार के फैसले के पक्ष में बोलना उनकी नींव को पहले की तुलना में और भी ज्यादा कमजोर कर देता है. फ़िलहाल कश्मीर में शान्ति बहाली की जा रही है, धीरे धीरे लोगो को आने जाने दिया जा रहा है.