धारा 370 हटने के बाद मोदी ने संबोधन में बजायी महबूबा के लिये खतरे की घंटी, की ये घोषणायें

538

भारत सरकार ने पिछले कुछ दिनों में बहुत ही बड़ा और संवेदनशील फैसला लिया है. इस फैसले के तहत सरकार ने जम्मू कश्मीर राज्य से न सिर्फ अनुच्छेद 370 हटा लिया बल्कि साथ ही साथ जम्मू कश्मीर को अलग और लद्दाख को भी अलग केंद्र शासित प्रदेश बना दिया. फैसले के बाद से ही पूरे राज्य में धारा 144 लगी रही. लोगो का बाहर आना मुश्किल था और सरकार की तरफ से अमित शाह ने मोर्चा सम्भाला ही हुआ था. सब कुछ बहुत ही बेतरीन तरीके से हुआ और संसद से सर्वसम्मति से ये मत पारित भी हो गया अगर कुछ एक सांसदों को छोड़ दिया जाये.

इस पूरे मामले के बाद में  सभी की अपेक्षा तो थी ही कि पीएम इस मसले पर बोले आखिर उनका बोलना ही तो मायने रखता है. आज फिर जानकारी भरी दोपहर में ही आ गयी कि प्रधानमंत्री मोदी 8 बजे देश को संबोधित करने जा रहे है. चलिये फिर जानते है क्या कुछ कहा है पीएम मोदी ने?

  1. जो सपना सरदार पटेल का था, बाबा साहब अम्बेडकर का था, श्यामाप्रसाद मुखर्जी का था वो अब जाकर के पूरा हुआ है, जम्मू कश्मीर में नये युग की शुरुआत हुई है. इस अवसर पर सबको पूरे देश को जम्मू कश्मीर और लद्दाख के लोगो को बहुत बहुत बधाई.
  2. कोई ये भी नही बता पाता था कि लोगो के जीवन में 370 से क्या लाभ हुआ? लोगो ने समझ लिया था बस चल रहा था तो लोग चला रहे थे. इस अनुच्छेद का देश के खिलाफ पकिस्तान के द्वारा इस्तेमाल किया गया, इस वजह से 42 हजार निर्दोष लोगो की जान चली गयी.
  3. देश के अन्य राज्यों में सफाई कर्मचारी एक्ट, अल्पसंख्यक क़ानून, मजदूरों के लिए क़ानून है लेकिन ये सब जम्मू कश्मीर के लोगो को इन सबका लाभ नही मिलता था, एससी एसटी लोगो को आरक्षण का लाभ मिलता था लेकिन वहाँ ऐसा नही था अब ऐसा नही होगा.
  4. मोदी जी ने घोषणा की है कि अब जम्मू कश्मीर में सभी सरकारी कर्मचारियों को और उनके पुलिस वर्ग के लोगो को वो सुविधाए और तनख्वाह मिलेगी जो एक केंद्र शासित प्रदेश के कर्मचारियों को मिलता है.
  5. अगली घोषणा के तहत जम्मू कश्मीर के बच्चो को पढ़ाई के लिये प्रधानमंत्री स्कॉलरशिप प्रदान की जायेगी ताकि वहाँ के बच्चो को पढ़ाया जा सके.
  6. प्रधानमंत्री मोदी ने वहां के लोगो के लिये इन्वेस्टमेंट लाने, सरकारी सुविधाए बढाने और कनेक्टिविटी बढाने की भी घोषणा की है. राज्य में स्पोर्ट्स अकादमी दी जायेगी ताकि वो आगे बढ़ सके.
  7. प्रधानमंत्री मोदी ने ये भी कहा है कि जम्मू कश्मीर अब परिवारवाद से थक चुका है. यहाँ पर उन्होंने महबूबा और उमर अब्दुल्ला जैसे लोगो को टारगेट किया और कहा अब नए युवाओं को आगे आना है और वो मंत्री मुख्यमंत्री बनेंगे. पंचायत स्तर के लोगो को आगे बढ़ाएंगे. ये मुफ़्ती और अब्दुल्ला परिवारों का अंत ही समझा जा सकता है.
  8. अंत में प्रधानमंत्री ने लद्दाख में रिलीजन टूरिजम, ईको टूरिज्म और एडवेंचर टूरिज्म का विस्तार करने की बात कही है, वहाँ पर सोलर प्रोजेक्ट्स का विस्तार करने और शिक्षा व्यस्था देने की भी बात कही है.