अब अचानक 70 अलगावादियों को इंडियन एयरफाॅर्स का प्लेन कश्मीर से उठा ले गया है

956

कश्मीर में सरकार की तरफ से बहुत ही बड़ा कदम उठाया गया है और ये सभी जानते है जम्मू कश्मीर अब बाकी सभी राज्यों की तरह हो चुका है. यहाँ पर कोई भी अनुच्छेद 370 लागू नही होता है और बाकी लोग भी यहाँ पर जमीन वगेरह खरीद पाएंगे. इस राज्य को अब केंद्र शासित प्रदेश में भी तब्दील कर दिया गया है लेकिन इस बदलाव से लोगो को गुजारने के लिए जाहिर तौर पर थोड़ी सख्ती की जरूरत तो है. सरकार ने लम्बे समय से कर्फ्यू लगा रखा है और कनेक्टिविटी भी लगभग समाप्त कर दी गयी है मगर अलगावादियों को काबू करना तो जरूरी ही है.

कई नेताओं को नजरबंद किया गया है और कईयो को गिरफ्तार करके जेल में तो किसी को गेस्ट हाउस में रखा गया है. अब एक और खबर आयी है कि कुल 70 अलगावादी नेता जो पाकिस्तान का समार्थन करते है उन्हें कश्मीर से उठाकर के शिफ्ट कर दिया गया है. ये लोग जेल में बंद थे या कुछ बाहर के या कही और थे ये तो मालूम नही है लेकिन एएनआई की रिपोर्ट ने सब कुछ साफ़ कर दिया है.

रिपोर्ट के अनुसार अन्धेरा ढलते ढलते जहाँ एक तरफ पीएम मोदी के देश को संबोधन की तैयारी चल रही थी वही दूसरी तरफ कश्मीर से 70 अलगावादियो को इंडियन एयरफाॅर्स द्वारा उपलब्ध करवाए गये प्लेन में डालकर के आगरा ले जाया गया. अब कहा जा रहा है कि उन्हें आगरा की जेल में भी रखा जा सकता है क्योंकि वहाँ पर फ़िलहाल हालात सामान्य नही है. सरकार की उन्हें यहाँ लाने के पीछे की मंशा ये है कि जब धीरे धीरे कश्मीर के लोगो का कर्फ्यू खोला जाये तो ये अलगावादी वहाँ पर किसी तरह से उनसे कांटेक्ट करके कही माहौल खराब न कर दे और इसी के लिए ये सब कदम उठाये जा रहे है.

मोदी सरकार द्वारा इतने बड़े और संवेदनशील फैसले लिए जाने के बाद भी अभी तक कोई छोटी सी भी घटना देखने में नही आयी है जिसके बाद में उनकी तारीफ़ तो हर तरफ की ही जा रही है. इसका श्रेय एनएसए अजीत डोभाल को भी दिया जाता है जिन्होंने सब कुछ बेहद ही बारीकी से समझा और संभाला है.