कश्मीर और धारा 370 पर बीच में कूदे अमेरिका और संयुक्त राष्ट्र, भारत से कही ये बात

3249

फ़िलहाल जम्मू कश्मीर में जो हालात है उससे सभी लोग वाकिफ है. जम्मू कश्मीर में नेता लोग इसका विरोध करते आ रहे है कि धारा 370 को हटा लिया जाए लेकिन सरकार तो सुप्रीम है और उन्होंने आखिरकार फैसला लेते हुए इसको तिलांजलि दे दी. अब सभी लोग खुश भी है क्योंकि जो विरोध करने वाले थे सब लोग गायब है और पाकिस्तान की उतनी बिसात नही है कि वो विरोध कर सके लेकिन इन सबके बीच में अब इस पूरे मसले में हमेशा की तरह संयुक्त राष्ट्र और अमेरिका ने अपनी दखल जरुर दी है तो चलिए जानते है उनका क्या कहना है?

अमेरिका बोला पूरी घटना पर है हमारी नजर
पिछले समय से जो भी घटनाक्रम हुआ है उसके बाद में अमेरिकी विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता मोर्गन ओर्तागस ने बयान जारी करते हुए कहा है कि हम पूरे घटनाक्रम पर नजर बनाये हुए है. हम अपील करते है कि ऐसे मौके पर भारत और पाकिस्तान दोनों ही शान्ति बनाये रखे. भारत ने जो भी केंद्र शासित प्रदेश बनाया है उस योजना पर हमने संज्ञान लिया है. हम वहां के लोगो के मानवाधिकार को लेकर के चिंतित है और उनके अधिकारो का सम्मान करने की भी अपील करते है.

संयुक्त राष्ट्र क्या बोला?
संयुक्त राष्ट्र ने ने कहा है कि हमारे आब्जर्वर ग्रुप को इस बात की रिपोर्ट मिली है कि एलओसी के करीब सैन्य तादात बढ़ा दी गयी है. हालात काफी तनावपूर्ण है. इसलिए हम दोनों ही देशो से शान्ति बनाये रखने की अपील करते है. भारत से भी उन्होंने संयम बरतते हुए काम करने के लिए कहा है.

हिन्दुस्तान को कोई फर्क नही पड़ेगा
अमेरिका या फिर संयुक्त राष्ट्र दोनों ही सिर्फ संयम बरतने के लिए कह रहे है और उन्होंने हिन्दुस्तान को कोई भी सख्त हिदायत देने से परहेज किया है और वो समझते भी है कि अब इंडिया बेहद ही पॉवरफुल देश बन चुका है इसलिये अगर हम उसे कुछ बोलते है और इंडिया बदले में हमें रिस्पोंस न दे या उलटा बोल दे तो हमारी प्रतिष्ठा को ही चोट पहुंचेगी इसलिये मामूली सी बयानबाजी की जा रही है ताकि थोडा दिखावा हो सके.