अपने घर की छत पर आकर फारूक अब्दुल्ला ने किया भारत सरकार के खिलाफ बड़ा ऐलान

1479

देश में फ़िलहाल काफी ज्यादा बवाल मचा हुआ है क्योंकि सरकार ने एक लम्बे अरसे के बाद में वो फैसला ले लिया जिसका सभी को काफी वक्त से इन्तजार था. देश के गृहमंत्री अमित शाह ने संकल्प रखा कि हम अनुच्छेद 370 को खत्म कर रहे है और इसके बाद में कश्मीर को पूरी तरह से कंट्रोल में कर लिया गया ताकि कोई भी किसी भी तरह से इस पर शासन प्रशासन की व्यवस्था खराब न कर सके. इसके बाद में कई लोग है जो संसद में भी इसके खिलाफ खड़े हो रहे है मगर अब फारूख अब्दुल्ला पहली बार सामने आये है और बोले है.

घर की बालकनी में से निकले और बताने लगे सबको धोखेबाज
फारूक अबदुल्ला अपने घर के पहले फ्लोर पर से बाहर आकर के बोले ‘ अमित शाह झूठ बोल रहे है मैं अपनी मर्जी से घर में हूँ. क्या मैं तब घर मैं बैठूंगा जब मेरे राज्य को जला रहे है? ये वो भारत नही है जिसमे मैं यकीन करता हूँ. ये पूरी तरह से अलोकतांत्रिक है. हम इस फैसले के खिलाफ कोर्ट जायेंगे, हम लोग कोई पत्थर फेंकने वाले नही है. वो लोग मेरी जान लेना चाह रहे है. मैं अपना सीना खोलकर के खड़ा हूँ जो करना है करो.’ इसके बाद में उमर अब्दुल्ला सबके सामने रोने लग गये.

महबूबा ने भी जारी किया था ऑडियो सन्देश
सिर्फ फारूख अब्दुल्ला ही नही बल्कि महबूबा मुफ़्ती ने भी अपना एक ऑडियो सन्देश जारी करके इसे भारत के इतिहास में लोकतंत्र का काला दिन बताया और इसका खुलकर के विरोध किया. वो इसे जम्मू कश्मीर के लोगो  के साथ धोखा बताया. वो ये तक कहने से नही चूकी कि भारत ने उनके साथ में धोखा किया है. इस तरह की बयानबाजी कश्मीरी नेताओं की तरफ से आ रही है.

खैर जो भी है इन सबके बीच में अब सरकार तो अपना फैसला कर चुकी है और इसे पलट पाना किसी के लिए भी संभव नही है क्योंकि देश संविधान और सदन में बहुमत से चलता है और जिनके पास बहुमत है वो जो करना चाहते थे वो कर चुके है.