इस पाकिस्तानी मूल की महिला ने क्यों बोला मोदी जी को धन्यवाद?

332

भारत और पाकिस्तान के बीच में किस तरह का माहौल है ये सभी लोग जानते है और जब दो देश इस स्तर तक एक दुसरे के खिलाफ होते है तो वहाँ की जो जनता होती है वो भी आम तौर पर सीमा पार के लोगो को पसंद नही करती है लेकिन भारत पाक के केस में ये चीजे थोड़ी अलग है क्योंकि पाक भारत से ही अलग हुआ है और अभी भी वहाँ से कुछ लोग है जो भारत में आ रहे है. इसके पीछे की वजह है वहाँ पर अल्पसंख्यको को हो रही परेशानियां और इसका सबसे बेहतरीन उदाहरण हम ले आये है.

लाजवती ने दिया भारत की नागरिकता देने के लिए धन्यवाद
लाजवती एक पाकिस्तानी मूल की महिला है जो डर के मारे पाक से भागकर के भारत में आ गयी थी और अपने पति रमेश कुमार के साथ पंद्रह साल से भारत में ही रह रही थी. उनका पता अलीगढ़ में था लेकिन उन्हें अब तक किसी सरकार ने नागरिकता नही दी मगर अब जाकर के पीएम मोदी की सरकार ने उन्हें भारत की नागरिक मान लिया है जिसके चलते वो अब एक भारतीय होने के सारे अधिकारों के साथ इस देश में रह सकती है.

क्यों पाकिस्तान से भागकर आयी थी लाजवती?
ये महिला पाक के बलूच क्षेत्र की रहने वाली थी लेकिन आज से डेढ़ दशक पहले वहाँ के नवाब को खत्म कर दिया गया और पाक ने वहाँ की सेना ने सबके घरो में घुसकर उनको तंग करना शुरू कर दिया. उनकी जिन्दगी कोई जिन्दगी नही बल्कि नरक हो चुकी थी जिसके चलते वो जैसे तैसे इंडिया में आयी और अपने लोगो के बीच में रहने लगी. यहाँ उककी जिन्दगी में सुकून है और अब तो उसे नागरिकता भी दी जा चुकी है तो किसी बात का भी डर खत्म हो चुका है.

इसी तरह की हजारो लाखो लाजवती है जो पाक में परेशान है. कुछ इंडिया में आ पाती है तो कुछ वही पर ही दम तोड़ देती है और यही हाल पाक में पिछले लम्बे समय से हिन्दुओ का रहा है मगर इन सब चीजो को अपने काले कारनामो को पाक जैसे तैसे छुपा ही लेता है.