महबूबा मुफ्ती ने रोता मुंह बनाकर जोड़े हाथ, कहा ‘ प्लीज ऐसा मत करो सरकार’

507

कश्मीर में इन दिनों में कुछ भी सामान्य नजर में नही आता है. सरकार ने पहले ही राज्य में एयरफाॅर्स और आर्मी को अलर्ट कर रखा है, सभी पर्यटकों को कश्मीर से बाहर निकल जाने को कहा गया है और तो और 10 हजार अतिरिक्त जवान भी कश्मीर में तैनात किये गये है जिससे मालूम चलता है कि अन्दर ही अन्दर कुछ बड़ा हो रहा है. ऐसे में सबसे ज्यादा हाथ पाँव वहाँ के नेताओं के फूले हुए है क्योंकि अगर सरकार 35ए या फिर 370 से जुड़े कदम उठायेगी तो उनकी राजनीति ही खत्म हो जाती है और ऐसे में महबूबा अब रोने जैसा मुंह बनाकर मीडिया के सामने पहुँच गयी है.

महबूबा बोली ‘ हाथ जोड़ती हूँ ऐसा मत करो’ 
इस पूरे प्रोसेस को देखते हुए महबूबा मुफ़्ती ने प्रेस वार्ता की और उसमे वो कुछ इस तरह से बोली ‘ पिछले कुछ दिनों में जो डेवेलोपमेंट हुए है वो डराने वाले है, हमारे स्टूडेंट्स जो बाहर कही है पढ़ रहे है मुल्क में वो भी घबराए हुए है. यहाँ भी हालात खतरनाक बने हुए है. होम मिनिस्ट्री ने जो टूरिस्ट्स को एडवायजरी जारी की है वो पेनिक पैदा करने वाली है. मेने ऐसा माहौल आज तक पहले कभी नही देखा है.’

अपनी बात को आगे बढाते हुए महबूबा ने जाहिर किया डर और कहा ‘ कई जगहों से मालूम चल रहा है कि जो भारत सरकार है वो कश्मीर का स्पेशल स्टेटस ख़तम करना चाहती है. जो 35ए और 370 है उसे खत्म करना चाहती है, इस्लाम में हालांकि हाथ जोड़ना गुनाह माना जाता है लेकिन मैं हाथ जोडती हूँ जनता के सामने, प्रधानमंत्री मोदी से कहती हूँ जो उस वक्त की लीडरशिप ने कश्मीर से वादे किये थे, उसे खतम न करे’ महबूबा ने तमाम इसी तरह की ही बाते कही है जिसमे वो सरकार से ऐसा माहौल न बनाने के लिये विनती कर रही है हालांकि यही महबूबा कुछ समय पहले चेतावनी दे रही थी.

अब ऐसी स्थिति में सरकार का क्या स्टैंड है? ये तो कोई भी नही जानता है क्योंकि भाजपा का एजेंडा तो सभी लोग जानते है कि वो कश्मीर के साथ में क्या करना चाहती है? मगर अभी तक उन्होंने साफ़ नही किया है कि किस तरह से