उन्नाव केस में नया खुलासा, ‘ जेल से विधायक करता था फोन और लड़की से कहता था..’

724

उन्नाव में जो कुछ भी हुआ है पूरे देश ने देखा है किस तरह से इन्साफ की आस लगाते लगाते इस देश में एक पूरा का पूरा परिवार ही खत्म हो गया मानो एक बाहुबली के आगे टिक पाना उनके लिये संभव भी नही था. लड़की को विधायक के खिलाफ केस दर्ज करवाने के लिए अपनी जान देने की कोशिश करनी पड़ी. इस लड़ाई में उसने अपने पिता को खो दिया. रिश्तेदारों को खो दिया और खुद हॉस्पिटल में जिन्दगी की जिंग लड़ रही है मगर जो असल में अब हुआ है और जो बाते सामने आ रही है उसने तो आम लोगो के हाथ पाँव ही फूला दिये.

सालो से इन्साफ की जंग लड़ रही उन्नाव की बेटी, पिता को खोया और खुद भी अस्पताल में मीडिया रिपोर्ट के अनुसार उन्नाव की इस लडकी ने अप्रेल 2018 में विधायक कुलदीप सेंगर पर शोषण करने का आरोप लगाया था. इसके बाद हुआ असली खेल, पीडिता को पुलिस में केस दर्ज करवाने के लिए मुख्यमंत्री के सामने आजकर खुदको आग लगानी पड़ी थी. इन सबके बीच में उल्टा पीडिता के पिता पर ही केस दर्ज हो गये और पुलिस कस्टडी में उनकी जान अज्ञात कारणों से चली गयी. अब हाल ही में पीडिता का एक्सीडेंट हो गया जिसके चलते वो और उसका वकील हॉस्पिटल में है जबकि उसके घर के दो सदस्य स्वर्ग सिधार चुके है.

दावा, विधायक जेल में बैठकर के फोन पर धमकियां देते थे फ़िलहाल पीडिता के पक्ष की तरफ से ये आरोप भी लगाया गया है कि जेल के अन्दर से विधायक उन्हें फोन करके कहते थे कि अब वो अपना केस वापिस ले ले वरना उनके परिवार में से कोई भी नही बचेगा. उन्हें एक बार नही बल्कि कई बार ऐसे कॉल आये जैसा कि पीड़ित परिवार का दावा है और अब जिस तरह से सबकी जाने जा रही है वो इशारा तो एक ही तरफ कर रहा है.

खैर अभी मामला सीबीआई को सौंपने की सिफारिश कर दी गयी है सरकार की तरफ से और इसके बादमे जो भी एक्सीडेंट हुआ है उसकी सारी जांच अच्छे तरीके से की जायेगी. जो भी दोषी होगा उसे जल्द से जल्द पकड़ने की कवायद की जा रही है.