आजम खान ने भरी संसद में मांगी माफ़ी, देखिये रमा देवी ने क्या जवाब दिया?

1016

आप अपने गलत कार्यो को कितना ही डिफेंड करने की कोशिश कर ले लेकिन आखिर में जब सब लोग आपके खिलाफत में खड़े हो जाए तो आप कितनी ही ताकतवर क्यों न रहे हो? आपको आखिर में झुकना ही पड़ता है और ऐसा ही अभी हाल ही में आजम खान के केस में भी हुआ है जहाँ पर उन्हे यानी आजम खान को न सिर्फ झुकना पडा बल्कि साथ ही साथ में माफ़ी भी मांगनी पड़ी जिसके बाद में रमा देवी ने भी इस मसले पर जवाब दिया और जवाब अपने आप में बेहद ही रोचक और दमखम वाला कहा जा सकता है.

भरे सदन में आजम ने रमा देवी को छेड़ा था, माफ़ी मांगने से पहले किया था इनकार
अगर आपको पूरी जानकारी न हो तो  पहले तो ये बता देते है कि आजम खान से माफ़ी किस बात की मंगवाई गयी है? दरअसल आजम ने सदन की कार्यवाही के वक्त स्पीकर का कामकाज देख रही उनकी कुर्सी पर बैठी हुई सांसद रमा देवी को छेड़ते हुए कहा था ‘ आप मुझे इतनी प्यारी लगती है कि मैं आपको तब तक देखता रहूँ जब तक आप मुझे नजर हटाने के लिए न कह दो.’ आजम ने इस बात पर कहा था मेने कुछ भी गलत नही कहा लेकिन पूरा सदन एक सुर में उनका विरोधी हो गये.

ओम बिडला ने ली मीटिंग, आजम माफ़ी मांगने के लिये पहुंचे
29 जुलाई की ही सुबह को सदन के स्पीकर ओम बिड़ला ने आजम खान के साथ में एक निजी मीटिंग की और उन्हें माफ़ी मांगने के लिए कहा जिसके बाद आजम सदन में पहुँचे और कहा ‘ मेरे भाषण और मेरे आचरण को पूरा सदन जानता है. इसके बाद भी अगर स्पीकर महोदय को लगता है मेरे आचरण में कोई गलती हुई है तो मैं माफ़ी चाहता हूँ.’ इसके बाद अखिलेश खड़े हुए और बोले उन्हें जो कहना था वो कह दिया. आजम खान ने फिर खड़े होकर कहा कि रमा देवी मेरे लिये बहन समान है.

रमा देवी ने दिया जवाब, अखिलेश को कोसा रमा देवी ने बादमे इसका जवाब दिया और कहा ‘ इनको(अखिलेश को) कौन आदेश दे रहा है बोलने के लिये? जो ये बीच में खड़े हो होकर के बोल रहे है बार बार. आजम खान ने जब मैं स्पीकर की कुर्सी पर बैठी थी तब जो कुछ भी कहा उसे पूरे हिन्दुस्तान ने देखा है. जो हुआ उसका महत्त्व इनको कभी समझ में नही आएगा. ये बाहर भी ऐसा ही बोलते है. इनकी आदत ही बिगड़ी हुई है. ‘