बीजेपी विधायक कुलदीप सेंगर को जेल भिजवाने वाली लड़की अस्पताल में और उसका वकील..

1533

उन्नाव में माहौल काफी ज्यादा तनावपूर्ण बना हुआ है क्योंकि मसला क़ानूनी से लेकर पूरा राजनीतिक हो चला है और जब आप इस पूरे केस को देखेंगे तो आपको लगेगा कि ये किसी की असल जिन्दगी की कहानी है या फिर रामगोपाल वर्मा की लिखी हुई कोई स्क्रिप्ट है? मामाला भारतीय जनता पार्टी के एक नेता से जुड़ा हुआ है जिनका नाम है कुलदीप सिंह सेंगर. बहुत ही बड़े और कद्दावर नेता रहे है, फ़िलहाल उन्नाव से विधायक है और रेप के आरोप में इन दिनों जेल में बंद किये जा चुके है लेकिन आरोप लगाने वाली लडकी भी कोई कम ठीक हालत में नही है.

कार में अपने वकील और चाची के साथ जा रही थी युवती, ट्रक ने आकर कार का नक्शा ही बदल दिया
पूरा मामला 28 जुलाई का ही है जब वो अपनी चाची और अपने वकील को लेकर के अपने चाचा से मिलने के लिए रायबरेली जा रही थी जो कि जेल में बंद है. रास्ते में ही उनकी कार के सामने एक बड़ा ही भारी भरकम ट्रक आ गया जिसने उन्हें ऐसी टक्कर मारी कि कार तितर बितर हो गयी. इस पूरे एक्सीडेंट में चाची और मौसी दोनों की ही जान चली गयी है जबकि लड़की गंभीर रूप से घायल है, उसे अस्पताल में भर्ती करवाया गया है. वही बात करे वकील की तो उसकी हालत भी नाजुक हो गयी है वो भी हॉस्पिटल में है. ट्रक ड्राईवर फ़िलहाल पुलिस हिरासत में हैं.

मामले का बेसिक आखिर क्या है?
दरअसल युवती का पूरा केस गत वर्ष अप्रेल 2018 में उजागर हुआ था. गाँव की ही एक युवती ने आरोप लगाया था कि उसके साथ में विधायक कुलदीप सेंगर और उसके भाई अतुल ने रेप किया और जब उसने बात को बाहर लाने की सोची तो पूरे परिवार को धमकियां मिलने लगी. लडकी अपनी जान देने के लिए मुख्यमंत्री आवास के बाहर पहुँच गयी जिसके बाद पुलिस हरकत में आयी और विधायक कुलदीप सेंगर को पकड़कर के जेल में डाल दिया गया.

इसके बाद से ही विधायक महोदय जेल में है और पूरा मामला सीबीआई देख रही है. इसी के बीच इस तरह से एक्सीडेंट हो जाना मन में कई सवाल पैदा करता है. अब वकील इस दुनिया में बचे रहने के लिए अपनी जिन्दगी से जंग लड़ रहा हैं और जो केस करने वाली पीड़ित है वो भी अस्पताल में बेहाल पड़ी है.