कोर्ट ने आजम खान को दिया बड़ा झटका, सब कुछ हाथ से गया और भारी जुर्माना अलग

849

आजम खान जो कभी यूपी की सत्ता के शीर्ष पर हुआ करते थे और उन्हें सुपर सीएम तक का पद दिया जाता था वो अब राजनीति के हाशिये पर धकेले जाने लगे है. यूपी सरकार और रामपुर प्रशासन इन दिनों आजम पर काफी ज्यादा सख्त है क्योंकि उन्होंने सत्ता में रहते हुए उन्होंने रामपुर में काफी गलत काम किये है जिसके चलते उनके खिलाफ हाल ही में केस दर्ज हुए है. इसमें किसानो के दर्जनों केस है जबकि रामपुर का प्रशासन भी उनके खिलाफ खड़ा हो गया है जो कभी उनके आगे पीछे घूमा करता था.

अपनी यूनिवर्सिटी के लिये सरकारी और किसानो की जमीन हड़पने के आरोप
मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार आजम खान के खिलाफ काफी सारे संगीन आरोप लगे है जिनके मुताबिक़ आजम ने किसानो को पुलिस द्वारा डराकर, उन्हें झूठे केसों में फंसाने को लेकर डराकर उनकी जमीन ले ली. इसमें एक सरकारी रास्ता भी शामिल है जो कि आजम खान की यूनिवर्सिटी के चलते बाधित हो रहा था. इस पूरे मसले को देखते हुए पहले तो उन्हें रामपुर प्रशासन के द्वारा भूमाफिया घोषित किया गया और इसके बाद उनके खिलाफ कोर्ट में भी मामला चला गया.

कोर्ट ने दिये जमीन जब्त करने के आदेश, करोडो का जुर्माना
आजम खान के खिलाफ कुछ दिन पहले ही प्रशासन ने गुहार लगाई थी. किसान भी परेशान थे कि न्यायलय ने झटपट से फैसला कर दिया. फ़िलहाल कोर्ट ने आदेश दिया है कि आजम खान की बन रही यूनिवर्सिटी की जमीन जब्त कर ली जाये और उस जमीन पर से अवैध कब्जा हटाया जाए जिसके चलते सरकारी मार्ग बाधित हो रहा है. आजम खान पर कुल 3 करोड़ 27 लाख 60 हजार रूपये का जुर्माना भी लगा है और तो और आजम खान को जब तक जमीन से कब्जा नही हटता है तब तक हर महीने पीडब्लूडी विभाग को 9 लाख रूपये देने होंगे. आजम खान के पास वैसे तो काफी पैसा है लेकिन करोडो का ये नुकसान उन्हें झटका तो देगा ही देगा.

हालांकि वो बार बार यही दुहाई देते हुए नजर आये कि उन्हें मुस्लिम होने की वजह से फंसाया जा रहा है और उनके खिलाफ बदले की भावना से कार्यवाही हो रही है मगर कोर्ट ने उनकी सारी दलीलों को खारिच करते हुए उनके खिलाफ फैसला सुना दिया है.