लखनऊ के ट्रैफिक में फंस गयी योगी आदित्यनाथ की गाड़ी, देखिये फिर क्या हुआ?

710

इन दिनों योगी आदित्यनाथ सिर्फ मुख्यमंत्री ही नही रह गये है बल्कि उनका पूरे यूपी में उससे भी बढकर के एक रूतबा बन चुका है जिसके चलते आम लोगो में तो उनके लिए प्रेम बना है लेकिन सरकारी कर्मचरियो और अफसरों में तो खौफ बना ही है और ऐसा ही खौफ अभी हाल ही में ऐसा ही एक नजारा एक बार फिर से देखने को मिल गया जब योगी आदित्यनाथ खुद भी आम लोगो की तरह ट्रैफिक में फंस गये और बस फंसे ही रह गये. इसके बाद में अफसरों की ऐसी हालत खराब हुई कि पूरे लखनऊ प्रशासन में हाय तौबा मच गयी.

बात तकरीबन दो बजे की है जब योगी आदित्यनाथ का काफिला निकला. ये काफिला लोकभावन से निकला था और कालीदास मार्ग स्थित मौजूद उनके सरकारी आवास पर जा रहा था लेकिन तभी केपिटल तिराहे के नजदीक ही उनका काफिला जाम में फंस गया. पहले से ही काफी जाम बना हुआ था जिसमे योगी जी की गाड़ियां जाकर के फंस गयी. इस पर योगी आदित्यनाथ को भी गुस्सा आना लाजमी था.

ये खबर इतनी देर में वहाँ के यातायात सीओ को पहुँची जो चौकी में बैठकर के मट्ठा पी रहे थे. जैसे ही उन तक ये मेसेज पहुंचा तो सभी ट्रैफिक पुलिस वालो के हाथ पाँव फूल गये क्योंकि योगी जी का काफिला देखकर के तो आस पास के लोग भी उनके पास जाने की कोशिश करने लगते है और भीड जमा हो जाती है. ऐसे में उन्होंने तुरंत सभी रोड को ब्लाक करवाया और योगी आदित्यनाथ की गाडियों को कुछ मिनटों के भीतर निकलवा पाने में कामयाब हो गये. हालांकि इन सबके बीच में आम जनता को काफी परेशानी उठानी पड़ी ये बात भी माननी ही पड़ेगी.

खैर अंत भला तो सब भला क्योंकि योगी जी को यहाँ पर गुस्सा नही आया वरना वो जहाँ वक्त मिले वहाँ सरकारी अफसरो पर बरस पड़ते है. हाँ इससे ये जरुर सीखने मिलता है कि जितनी मुस्तैदी प्रशासन सीएम के आते वक्त दिखाता है उतना हर वक्त रहे तो ट्रैफिक जाम से पूरी तरह से निजात मिल सकती है.