जेल जा सकते है आजम खान, बचने के लिये दे रहे ऐसा बेतुका बयान

240

आजम खान इन दिनों सही परिस्थितियों में नही है क्योंकि उनके खिलाफ इतने भारी भरकम केस हुए है. जमीनों के सम्बन्ध में और लोगो के धमकाने के लिए उन पर इतनी ज्यादा धाराए लगाकर के छोड़ दी गयी है जो उनके गले की फाँस बन चुकी है. ऐसे में आजम खान भी बड़े ही बेतुके बयान देकर के अपने आपको बचाने की पुरजोर कोशिश कर रहे है. सपा की टीम भी आजम के पास पहुँच चुकी है और प्रशासन की टीम उनके खिलाफ जो भी जुट सके वो सबूत जुटा रही है तो पहले तो पूरा मामला थोडा समझ लेते है.

किसानो को धमकाकर जमीन हडप कर ली
मीडिया रिपोर्ट्स में दर्जनों किसानो ने दावा किया है कि जब आजम खान सत्ता में थे तो उन्होंने पुलिस बल का प्रयोग करके हमारे साथ गुंडागर्दी की और जबरन हमारी जमीने छीन ली. किसानो ने कहा है कि आजम के कहने पर पुलिस के लोग आते थे जिसमे उन्होने कई बड़े बड़े अधिकारियों का नाम भी लिया है, वो उनके घर में तोड़ फोड़ करते, बदतमीजी करते और पुरुषो को तो जेल में डाल देते थे. उन्हें कहा जाता ऐसे ऐसे मुकदमो में फंसा देंगे कि कभी जेल से बाहर ही नही आ पाओगे.

सरकार बदली तो प्रशासन ने की कार्यवाही
सरकार बदली और आजम के सत्ता से बेदखल होते ही उनके खिलाफ कार्यवाही होनी शुरू हो गयी है. आजम खान के खिलाफ अब तक 20 से भी ज्यादा किसानो ने केस दर्ज करवाए है, रामपुर प्रशासन ने उन्हें भूमाफिया घोषित कर दिया है और तो और अब उन्हें गिरफ्तार करने का आदेश भी आ सकता है अगर उनके खिलाफ ऐसे पुख्ता सबूत मिल जाते है जिससे माना जा सके कि वो समाज के लिए और उत्तर प्रदेश के लिए एक ख़तरनाक व्यक्ति है.

आजम ने बचने के लिए दी मुसलमान होने की दुहाई
आजम खान ने यहाँ पर बचने के लिये मुस्लिम कार्ड खेलने से भी परहेज नही किया है. आजम कहते है कि हमारे पूर्वज बंटवारे के बाद में यहाँ पर रूक गये इस्सकी सजा हमे दी जा रही है. आजम खान जिन्होंने मुस्लिमो की भी जमीन हड़प कर ली है वो मुस्लिम होने की दुहाई देकर कब तक क़ानून के शिकंजे से बच पायेंगे ये भी देखना होता है?