बिग ब्रेकिंग: प्रियंका गाँधी को उठाकर के ले गयी पुलिस

351

उत्तर प्रदेश की राजनीति में इन दिनों में काफी ज्यादा उठापटक मच चुकी है और उसके पीछे अपने कारण है मगर फ़िलहाल जो हुआ है वो काफी ज्यादा शॉकिंग है. हाल ही में कभी उत्तर प्रदेश के सबसे कद्दावर राजनीति परिवार में रही प्रियंका गांधी को पुलिस ने पब्लिक प्लेस से मजबूरन ले जाना पड़ा और उन्हें लेकर के मिर्जापुर की तरफ रवाना हो गयी. पुलिस ने पहले उन्हें समझाने की भरपूर कोशिश की लेकिन प्रियंका के न समाझने पर उन्हें ऐसा करना ही पडा और कांग्रेस इस मामले पर काफी ज्यादा सख्त हो गयी है मगर पुलिस को जो करना था वो कर चुकी है.

सोनभद्र जाना चाहती थी प्रियंका
सोनभद्र में एक जमीन जो कि लगभग 90 से 100 बीघा है उसको लेकर के संघर्ष हुआ जिसमे दस के करीब लोगो की जाना चली गयी और कई लोग घायल भी हुए. सोनभद्र में मामला बेहद ही संवेदनशील है जिसके चलते वहाँ धरा 144 लग चुकी है और किसी को भी वहाँ जाने की अनुमति नही है लेकिन प्रियंका वाड्रा वहाँ पर ही अड़कर के बैठ गयी कहाँ मैंने तो जाउंगी और पीडितो से मिलूंगी. पुलिस ने उन्हें समझाया तो वो धरना करने बैठ गयी. मामला हाथ से निकलते हुए देखकर पुलिस को मजबूरन प्रियंका को उठाकर अपनी गाडी में ले जाना पडा और उन्हें लेकर के वो मिर्जापुर की तरफ निकल गयी.

प्रियंका बोली, मुझे सिर्फ मिलना था
प्रियंका को जब पुलिस के द्वारा रोका गया तो उन्होंने कहा कि वो सिर्फ और सिर्फ पीडितो से मिलना चाहती है, वो जो कुछ भी करेगी बिलकुल ही शान्तिपूर्ण तरीके से करेगी इसके अलावा उनकी कोई और मंशा नही है लेकिन प्रशासन ने उन्हें नारायणपुर पुलिस थाने के पास रोक लेते है जहाँ पर वो धरने पर बैठ गयी. पुलिस उन्हें अरेस्ट करके मीडिया रिपोर्ट के अनुसार चुनार गेस्ट हाउस ले गयी है जहाँ से संभवत उन्हें कुछ देर बाद मामला ठंडा होने पर छोड़ दिया जाएगा.

योगी आदित्यनाथ ने कहा है कि कोई भी वहाँ की शासन की व्यवस्था को न बिगाड़े जो भी सोन भद्र में हुए कांड के दोषी है उनके खिलाफ सख्त से सख्त कार्यवाही की जायेगी. फ़िलहाल तो विपक्ष और सभी पार्टियां बीजेपी पर हमलावर है.